Print ReleasePrint
XClose
पत्र सूचना कार्यालय
भारत सरकार
प्रधानमंत्री कार्यालय
14-सितम्बर-2017 14:17 IST

जापान के प्रधानमंत्री की भारत की यात्रा के दौरान प्रधानमंत्री द्वारा प्रेस वक्तव्य (14 सितंबर, 2017)


His Excellency, Prime Minister शिंजो आबे, Distinguished Delegates,

Members of the media,

कोन्नीचिवा(Good Afternoon / नमस्कार)

मुझे प्रसन्नता है कि मेरे अनन्य मित्र, प्रधानमंत्री शिंजो आबे का भारत में, और विशेष रूप से गुजरात में, स्वागत करने का अवसर मुझे मिला है। प्रधानमन्त्री आबे और मैं कई बार अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलनों की sidelines पर मिले हैं। लेकिन भारत में उनका स्वागत करना मेरे लिए विशेष रूप से हर्ष का विषय होता है। कल शाम मुझे उनके साथ साबरमती आश्रम जाने का अवसर मिला। आज हम दोनों दांडी कुटीर भी गए। आज सुबह हम दोनों ने मिल कर जापान के सहयोग से बनाए जा रहे मुंबई-अहमदाबाद high speed railways project का भूमिपूजन किया। यह एक बहुत बड़ा क़दम है। यह सिर्फ़ high speed rail की शुरुआत नहीं है। भविष्य में हमारी आवश्यकताओं को देखते हुए मैं इस नई railway philosophy को नए भारत के निर्माण की जीवनरेखा मानता हूं। भारत की अबाध प्रगति का संपर्क अब और भी तेज गति से जुड़ गया है।

Friends,

आपसी विश्वास और भरोसा, एक दूसरे के हितों और चिंताओं की समझ, और उच्च स्तरीय सतत संपर्क, यह भारत जापान संबंधों की ख़ासियत हैं। हमारी Special Strategic और Global Partnership का दायरा सिर्फ़ द्विपक्षीय या क्षेत्रीय स्तर तक ही सीमित नहीं है। वैश्विक मुद्दों पर भी हमारा सहयोग घनिष्ठ है। पिछले वर्ष मेरी जापान यात्रा के समय हमने परमाणु उर्जा के शांतिपूर्ण प्रयोग के लिए एक ऐतिहासिक समझौता किया था। इसके रैटिफिकेशन के लिए मैं जापान के जनमानस, जापान की संसद, और ख़ास तौर पर प्रधानमंत्री आबे का ह्रदय से आभार प्रकट करता हूं। Clean Energy और Climate Change के विषय पर हमारे सहयोग के लिए इस समझौते ने एक नया अध्याय जोड़ा है।

Friends,

2016-17 में भारत में जापान से 4.7 billion dollars का निवेश हुआ है, जो कि पिछले वर्ष की तुलना में 80 प्रतिशत अधिक है। अब जापान भारत में third largest investor है। यह साफ़ दर्शाता है कि भारत के आर्थिक विकास और सुनहरे कल के प्रति जापान में कितना विश्वास और आशावादी वातावरण है। और इस निवेश को देख कर यह अनुमान लगाया जा सकता है कि आने वाले समय में भारत और जापान के बीच बढ़ते business के साथ people to people संबंध भी बढ़ेंगे। हमने जापान के नागरिकों के लिए visa on arrival की सुविधा तो पहले से ही दे रखी है। और अब हम India Post और Japan Post के सहयोग से एक Cool Box Service भी शुरू करने जा रहे हैं, ताकि भारत में रह रहे जापानी लोग सीधा जापान से अपने पसंदीदा भोजन मंगा सकें। साथ ही साथ मेरा जापानी business समुदाय से यह भी अनुरोध है कि भारत में अधिकाधिक जापानी restaurant खोलें! आज भारत कई स्तरों पर आमूलचूल परिवर्तन की राह पर चल रहा है। Ease of Doing Business हो या Skill India, Taxation Reform हो या Make in India, भारत पूरी तरह transform हो रहा है। जापान के businesses के लिए यह बहुत बड़ा मौका है। और मुझे प्रसन्नता है कि जापान की कई कंपनियां हमारे राष्ट्रीय flagship कार्यक्रमों से गहन तौर पर जुड़ रही हैं। आज शाम को दोनों देशों के business leaders के साथ हमारी बातचीत और कार्यक्रम में हमें इसके प्रत्यक्ष लाभ भी देखने को मिलेंगे। जापान की Official Development Assistance में हम सबसे बड़े partner हैं, और विभिन्न sectorsके projects के लिए आज हुए समझौतों का मैं हार्दिक स्वागत करता हूं।

Friends,

मुझे पूरा विश्वास है कि हमारी बातचीत और आज किये गए समझौते भारत और जापान की साझेदारी को सभी क्षेत्रों में और अधिक मजबूत करेंगे। इन्हीं शब्दों के साथ मैं एक बार फ़िर प्रधानमंत्री आबे और उनके साथ आये high level delegation का हार्दिक स्वागत करता हूं।

ईज्यो दे गोज़ाइमस (That’s all for now)

अरिगातौ गोज़ाइमस (Thank you)

Thank you very much.

***


AKT/SH