Print ReleasePrint
XClose
पत्र सूचना कार्यालय
भारत सरकार
प्रधानमंत्री कार्यालय
07-अक्टूबर-2017 14:45 IST

प्रधानमंत्री ने द्वारकाधीश मंदिर में पूजा-अर्चना की, द्वारका में एक जनसभा को संबोधित किया

प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी ने आज द्वारका के द्वारकाधीश मंदिर में पूजा-अर्चना के साथ अपनी दो दिवसीय गुजरात यात्रा की शुरुआत की।

प्रधानमंत्री ने ओखा और बेट द्वारका के बीच पुल एवं अन्‍य सड़क विकास परियोजनाओं की आधारशिला रखने के लिए पट्टिकाओं का अनावरण किया।

प्रधानमंत्री ने कहा कि उन्‍होंने द्वारका में आज एक नई ऊर्जा और उत्‍साह देखा। उन्होंने कहा कि जिस पुल की आधारशिला रखी गई है वह हमारी प्राचीन विरासत को नए सिरे से जोड़ने का एक साधन है। उन्‍होंने कहा कि इससे पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा जिससे रोजगार के अवसर सृजित होंगे क्‍योंकि पर्यटन को प्रोत्‍साहित करने के लिए विकास काफी अहम होगा।

प्रधानमंत्री ने याद किया कि कुछ वर्ष पहले बुनियादी ढांचे के अभाव के कारण किस प्रकार बेट द्वारका के लोगों को कठिनाइयों और चुनौतियों का सामना करना पड़ता था।

प्रधानमंत्री ने कहा कि पर्यटन क्षेत्र का विकास अलग-थलग रहकर नहीं किया जा सकता है। उन्‍होंने कहा कि यदि हम अधिक से अधिक पर्यटकों को गिर की ओर आकर्षित करना चाहते हैं तो हमें पर्यटकों को द्वारका जैसे आसपास के अन्‍य जगहों का भ्रमण करने के लिए भी प्रेरित करना चाहिए।

प्रधानमंत्री ने कहा कि बुनियादी ढांचे के निर्माण से आर्थिक गतिविधियों में सुधार होना चाहिए और इससे विकास का वातावरण समृद्ध होना चाहिए। उन्‍होंने कहा कि हम बंदरगाहों का विकास और बंदरगाह-आधारित विकास चाहते हैं क्‍योंकि नीली अर्थव्‍यवस्‍था से भारत की प्रगति को आगे मदद मिलनी चाहिए।

प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत सरकार मछुआरों के सशक्तिकरण के लिए कई कदम उठा रही है। उन्‍होंने कहा कि काण्‍डला पोर्ट में अप्रत्‍याशित वृद्धि दिख रही है क्‍योंकि इस बंदरगाह में सुधार के लिए संसाधन लगाए गए थे। उन्‍होंने कहा कि अलंग को एक नया जीवन दिया गया है और वहां काम कर रहे श्रमिकों के कल्‍याण के लिए कदम उठाए गए हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार समुद्री सुरक्षा उपकरणों का आधुनिकीकरण कर रही है। उन्‍होंने कहा कि इसके लिए इस देवभूमि द्वारका में एक संस्‍थान की स्‍थापना की जाएगी।

कल जीएसटी परिषद की बैठक में आम सहमति से लिए गए निर्णय के बारे में प्रधानमंत्री ने कहा कि जब सरकार में भरोसा होता है और जब नीतियां सच्‍चे इरादे से बनाई जाती हैं तो लोगों के लिए यह स्‍वाभाविक है कि वे राष्‍ट्र के बेहतरीन हित में हमारा समर्थन करें।

प्रधानमंत्री ने जोर देकर कहा कि सरकार लोगों की आकांक्षाओं को पूरा करने और गरीबी से मुकाबला करने में मदद करना चाहती है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि दुनिया का ध्‍यान भारत की ओर आकर्षित किया जा रहा है और लोग यहां निवेश करने के लिए आ रहे हैं। प्रधानमंत्री ने कहा, 'मैं देख रहा हूं कि गुजरात भारत के विकास में सक्रिय योगदान कर रहा है और इसके लिए मैं गुजरात सरकार को बधाई देता हूं।'

***

अतुल तिवारी/शाहबाज़ हसीबी/बाल्‍मीकि महतो/संजीत चौधरी