Print ReleasePrint
XClose
पत्र सूचना कार्यालय
भारत सरकार
राष्ट्रपति सचिवालय
14-नवंबर-2017 19:25 IST

राष्‍ट्रपति ने बच्‍चों के साथ बाल दिवस मनाया

राष्‍ट्रपति श्री रामनाथ कोविंद ने आज कहा कि बच्‍चे देश का भविष्‍य हैं और हमें उनके कल्‍याण के लिए प्रयास करने चाहिए। राष्‍ट्रपति ने कहा कि हमें हर संभव प्रयास करना चाहिए कि हमारे देश के बच्‍चों को सुरक्षित और खुशहाल बचपन मिले। प्रत्‍येक बच्‍चा वह कली है जो खिलने का इंतजार करती है।

राष्‍ट्रपति ने बाल दिवस के अवसर पर राष्‍ट्रपति भवन में बच्‍चों को राष्‍ट्रीय बाल पुरस्‍कार प्रदान किए। इस अवसर पर महिला और बाल विकास मंत्रालय को भेजे गए संदेश में राष्‍ट्रपति ने कहा कि बच्‍चों को पुरस्‍कृत कर हम उनकी प्रतिभा और राष्‍ट्र निर्माण में उनके योगदान की संभावना को पहचानते हैं और उन्‍हें प्रोत्‍साहित करते हैं। हमें बच्‍चों से जुड़े कल्‍याण के कार्य करने वाले व्‍यक्तियों और संस्‍थानों के महत्‍वपूर्ण योगदान को भी मान्‍यता देनी चाहिए।

बाद में राष्‍ट्रपति ने विभिन्‍न स्‍कूलों/संस्‍थानों से आए छात्रों/बच्‍चों के साथ राष्‍ट्रपति भवन में बाल दिवस मनाया।

राष्‍ट्रीय बाल पुरस्‍कारों में असाधारण उप‍लब्धि के लिए राष्‍ट्रीय बाल पुरस्‍कार शामिल हैं जो शिक्षा, संस्‍कृति, कला, खेल, संगीत आदि के क्षेत्र में असाधारण क्षमता वाले बच्‍चों को पहचान प्रदान करने के लिए दिए जाते हैं; बाल कल्‍याण के क्षेत्र में उत्‍कृष्‍ट कार्य करने के लिए संस्‍थानों और व्‍यक्तियों को बाल कल्‍याण के लिए राष्‍ट्रीय पुरस्‍कार; और बच्‍चों की सेवा के लिए उत्‍कृष्‍ट योगदान देने के लिए व्‍यक्तियों को राजीव गांधी मानव सेवा पुरस्‍कार प्रदान किया जाता है।

*****

वीके/केपी/वीके-5437