Print
XClose
पत्र सूचना कार्यालय
भारत सरकार
शिपिंग मंत्रालय
13-फरवरी-2018 20:50 IST

मोडु सागर भूषण पर अग्नि दुर्घटना

कोचीन शिपयार्ड में जहाज की मरम्मत हो रही थी

सीएसएल ने दुर्घटना में मारे गये 5 व्यक्तियों के परिवारों को प्रति परिवार 10 लाख रुपये की अनुग्रह राशि देने की घोषणा की

कोचीन शिपयार्ड में मरम्मत किये जा रहे जहाज सागर भूषण पर आज हुई एक दुर्भाग्यपूर्ण अग्नि दुर्घटना में 5 लोगों की मौत हो गयी जबकि 7 अन्य घायल हो गये। सागर भूषण ओएनजीसी का एक आयल-रिग है। कोचीन शिपयार्ड के प्रबंध निदेशक एवं अध्यक्ष ने प्रत्येक मृतक के परिवार के लिये 10 लाख रुपये की अनुग्रह राशि तुरंत देने की घोषणा की है। मौजूदा नियमों के अनुसार सभी घायलों के इलाज का पूरा व्यय कंपनी द्वारा वहन किया जायेगा। सभी प्रभावितों को सभी प्रकार की सहायता उपलब्ध करायी जायेगी एवं कंपनी का पूरा उच्च प्रबंधन हालात की निगरानी कर रहा है। वरिष्ठ पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारी घटनास्थल पर हैं और उपयुक्त कार्यवाही की जा रही है।

 

सागर भूषण जहाज 7 दिसंबर 2017 को मरम्मत के लिये कोचीन शिपयार्ड पर पहुंचा था। और इसे 12 जनवरी 2018 को सूखे डॉक पर लाया गया और इसे 28 फरवरी को वहां से वापस ले जाया जाना था और मरम्मत का काम 7 अप्रैल 2018 तक पूरा किया जाना था।

 

आज सुबह करीब सवा नौ बजे सीएसएल को एक फोन मिला कि ड्रॉयडॉक में मरम्मत किये जा रहे जहाज के वातानुकूलन कक्ष के पास से गैस का रिसाव हो रहा है। तुरंत ही सभी काम रोकने के निर्देश दिये गये लेकिन तब तक जहाज के अगले हिस्से में स्थित एसी प्लॉन्ट के पास विस्फोट हो चुका था। एक एंबुलेस के साथ अग्निशमन दल की गाड़ियां तुरंत ही जहाज के पास भेजी गयी। जहाज पर मौजूद अग्निशमन कर्मियों एवं बाद में अलग से भेजे गये अग्निशमन दल ने, जो कि विस्फोट के बाद वहां पहुंचा, मिलकर आग को बुझाया।

 

सीएसएल ने भरोसा दिलाया है कि अपने काम में स्वास्थ्य, संरक्षा एवं पर्यावरण (एचएसई) पर मूल सिद्धान्तों के नाते पूरा जोर दिया जाता है। इनके बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिये कर्मियों को जानकारी दी जाती है, एचएसई चेतावनियां जारी की जाती हैं और इसे टूलबॉक्स पर होने वाली चर्चा में शामिल किया जाता है। सीएसएल में एचएसई का प्रदर्शन लगातार अच्छा बना रहा है।

***

 

वीके/एएम/केटी-6671