Print
XClose
पत्र सूचना कार्यालय
भारत सरकार
नागर विमानन मंत्रालय
12-मार्च-2018 16:50 IST

श्री सुरेश प्रभाकर प्रभु ने नागर विमानन मंत्रालय का अतिरिक्त प्रभार संभाला

 

(वाणिज्य और उद्योग मंत्री श्री सुरेश प्रभाकर प्रभु नागर विमानन मंत्रालय का अतिरिक्त प्रभार ग्रहण करते हुए। साथ में हैं नागर विमानन राज्यमंत्री श्री जयंत सिन्हा)

 

वाणिज्य और उद्योग मंत्री श्री सुरेश प्रभाकर प्रभु ने आज नागर विमानन मंत्रालय का अतिरिक्त प्रभार ग्रहण करते हुए कहा कि विमानन क्षेत्र भारतीय अर्थव्यवस्था के तेजी से बढ़ते क्षेत्रों में से एक है। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि मुक्त आकाश नीति से विमानन क्षेत्र में शानदार वृद्धि हो रही है और इस वृद्धि के लाभ रोजगार सृजन में बढ़ोतरी के रूप में देखा जाएगा।

विमान संपर्क बढ़ने और सस्ता किराया के कारण छोटे शहरों के लोग कामकाज और छुट्टियों के लिए विमान यात्रा करने लगे हैं। इसके परिणामस्वरूप भारतीय विमान सेवाओं को एक हजार से अधिक विमान बुक करने का आदेश देना पड़ा। ऐसा मुख्य रूप से कम लागत वाली विमान सेवाओं के नेतृत्व में हुआ।

मुक्त आकाश अंतर्राष्ट्रीय नीतिगत अवधारणा है, जिसमें नियमों तथा अंतर्राष्ट्रीय विमानन उद्योग के नियमनों को उदार बनाना है, विशेषकर वाणिज्यिक विमानन क्षेत्र में, ताकि विमानन उद्योग के लिए मुक्त बाजार का वातावरण बन सके।

***

वीके/एएम/एजी/एमएस–6997