Print
XClose
पत्र सूचना कार्यालय
भारत सरकार
वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय
08-नवंबर-2018 16:57 IST

भारत से चीन को चीनी का निर्यात जल्द शुरू होगा

अगले वर्ष की शुरूआत में भारत से चीन को चीनी का निर्यात प्रारंभ होगा। 15,000 टन चीनी के निर्यात के लिए इंडियन शुगर मिल एसोसियेशन (आईएसएमए) और चीन की सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी सीओएफसीओ के बीच समझौता हुआ।

वाणिज्य मंत्रालय की पहल से यह संभव हुआ है। चीनी निर्यात के लिए दोनों देशों के अधिकारियों के बीच कई दौर की बैठके हुईं थीं।  

अगले वर्ष के प्रारंभ में भारत 2 मीट्रिक टन चीनी का निर्यात चीन को करेगा। गैर बासमती चावल के बाद चीनी दूसरा उत्पाद है जिसे चीन भारत से आयात करेगा। चीन के साथ भारत के 60 बिलियन डॉलर के व्यापारिक घाटे को कम करने की दिशा में यह महत्वपूर्ण कदम है। 2017-18 के दौरान भारत ने चीन को 33 बिलियन डॉलर के मूल्य के उत्पादों का निर्यात किया, जबकि चीन से भारत का आयात 76.2 बिलियन डॉलर है।

भारत दुनिया में चीनी का सबसे बड़ा उत्पादक है। 2018 में देश में 32 एमएमटी चीनी की उत्पादन हुआ। भारत तीनों ही श्रेणियों – कच्ची, रिफाइंड और श्वेत - की चीनी का उत्पादन करता है। भारतीय चीनी उच्च गुणवत्ता वाली होती है और यह डैक्सट्रेन से मुक्त होती है क्योंकि गन्ना काटने के बाद निम्नतम समय में मिल में गन्ने की पेराई होती है। भारत ऐसी स्थिति में है कि वह चीन को बड़ी मात्रा में उच्च गुणवत्ता वाली चीनी  का निर्यात कर सके। 

 

    

***

आर.के.मीणा/अर्चना/जेके/सीएस-11120