Print
XClose
पत्र सूचना कार्यालय
भारत सरकार
सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय
10-फरवरी-2019 17:46 IST

बर्लिन 2019 में भारतीय प्रतिनिधिमंडल ने वेनिस इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल से सहयोग के बारे में चर्चा की

मीडिया और मनोरंजन क्षेत्र में सहयोग के लिए नए रास्ते तलाशे गए

भारतीय उद्योग परिसंघ के सहयोग से सूचना और प्रसारण मंत्रालय, बर्लिन अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव (बर्लिन) 2019 में भाग ले रहा है। बर्लिन में भारतीय सिनेमा को वैश्विक मंच पर प्रदर्शित करने और मीडिया और मनोरंजन क्षेत्र में व्यापार के नए अवसरों की सुविधा के लिए इंडिया पवेलियन की स्थापना की गई है।

 

 

 

भारतीय प्रतिनिधिमंडल ने बर्लिन में वेनिस इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल के वेनिस प्रोडक्शन ब्रिज के प्रमुख श्री पास्कल डायट से मुलाकात की। बैठक के दौरान, श्री डायट ने भारत और आईएफएफआई के साथ काम करने के लिए अपनी रुचि व्यक्त की। उन्होंने वेनिस इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल 2019 में भारत और आईएफएफआई 2029 को प्रमुखता देने पर भी जोर दिया।

प्रतिनिधिमंडल ने हार्टलैंड फिल्म फेस्टिवल, इंडियानापोलिस, इंडियाना, यूएसए की वरिष्ठ अंतर्राष्ट्रीय कार्यक्रम सलाहकार सुश्री हन्ना फिशरसीईओ सुश्री एनाबेले शीहान, न्यूजीलैंड फिल्म आयोग की विपणन प्रमुख सुश्री जैस्मीन मैकस्वीनी और प्रबंधक श्री इयान वालेस से भी मुलाकात की।

सुश्री फिशर ने आईएफएफआई 2019 के साथ भविष्य में सहयोग के अवसरों के बारे में बात की और हार्टलैंड फिल्म फेस्टिवल में भारत के प्रदर्शन और आईएफएफआई 2019 में उनकी भागीदारी के लिए एक साथ काम करने की संभावना पर चर्चा की। उन्होंने गंभीरता से आईएफएफआई 2019 के लिए अपनी भागीदारी और समर्थन की पेशकश की। न्यूजीलैंड फिल्म आयोग के प्रतिनिधिमंडल ने भारत के साथ काम करने के लिए अपनी रुचि व्यक्त की और भारत-न्यूजीलैंड सह-उत्पादन संधियों के बारे में प्रगति करने पर चर्चा की।


 

इन सहभागिताओं के माध्यम से, भारतीय प्रतिनिधिमंडल ने फिल्म सुविधा कार्यालय के माध्यम से आईएफएफआई के स्वर्ण जयंती संस्करण को बढ़ावा दिया। फिल्म निर्माताओं के लिए एकल खिड़की निकासी की सुविधा से भारत में फिल्मों की शूटिंग में आसानी हुई।   वेबसाइट www.ffo.gov.in के माध्यम से भारत में 'फिल्म पर्यटन' के लिए मंच प्रदान किया गया है। प्रतिनिधिमंडल ने भारत के साथ सह-उत्पादन और अंतरराष्ट्रीय निर्माताओं के साथ फिल्मों के लिए सहयोग के अवसरों का पता लगाया।   

****

आर.के.मीणा/अर्चना/एसकेएस/एनके -295