Print
XClose
पत्र सूचना कार्यालय
भारत सरकार
गृह मंत्रालय
15-अप्रैल-2019 17:11 IST

एनएससीएन/एनके, एनएससीएन/आर और एनएससीएन/के-खांगो के साथ संघर्ष विराम की अवधि एक वर्ष के लिए बढ़ी

सरकार और नेशनल सोशलिस्‍ट काउंसिल ऑफ नगालैंड (नियोपाओ कोनयाक/कितोवी) (एनएससीएन/एनके) और नेशनल सोशलिस्‍ट काउंसिल ऑफ नगालैंड/रिफोरमेशन (एनएससीएन/आर) के बीच संघर्ष विराम की अवधि 28 अप्रैल, 2019 से एक वर्ष के लिए बढ़ाने का फैसला किया गया है। संघर्ष विराम अब 27 अप्रैल, 2020 तक प्रभावी रहेगा। इस आशय के एक समझौते पर सरकार की ओर से गृह मंत्रालय में संयुक्‍त सचिव श्री सत्‍येन्‍द्र गर्ग और एनएससीएन/एनके की ओर से जीपीआरएन/एनएससीएन के निरीक्षक श्री जैक जिमोमी और एनएससीएन/आर की ओर से सचिव श्री तोशी लोंगकुमेर और निरीक्षक डॉक्‍टर अमेंटो चीशी ने आज (15 अप्रैल, 2019)  हस्‍ताक्षर किए।

नेशनल  सोशलिस्‍ट काउंसिल ऑफ नगालैंड/के-खांगो ने आज (15 अप्रैल, 2019) से एक वर्ष की अवधि के लिए सरकार के साथ ताजा संघर्ष विराम समझौता किया है। इस पर गृह मंत्रालय में संयुक्‍त सचिव श्री सत्‍येन्‍द्र गर्ग और एनएससीएन/के-खांगो की ओर से निरीक्षक श्री न्‍यूएल नागा और सदस्‍य श्री माइकल येपथो ने हस्‍ताक्षर किए।

***

आर.के.मीणा/आरएनएम/एएम/केपी/वाईबी-