विज्ञप्तियां उर्दू विज्ञप्तियां फोटो निमंत्रण लेख प्रत्यायन फीडबैक विज्ञप्तियां मंगाएं Search उन्नत खोज
RSS RSS
Quick Search
home Home
Releases Urdu Releases Photos Invitations Features Accreditation Feedback Subscribe Releases Advance Search
हिंदी विज्ञप्तियां
तिथि माह वर्ष
  • प्रधानमंत्री कार्यालय
  • नेपाल के पूर्व प्रधानमंत्री श्री शेर बहादुर देउबा ने प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी से भेंट की  
  • प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने शहीद उधमसिंह के बलिदान दिवस पर उनका नमन किया  
  • आंध्र प्रदेश और तेलंगाना के बुनकरों की प्रधानमंत्री से मुलाकात  
  • प्रधानमंत्री की गुरु पूर्णिमा के अवसर पर लोगों को शुभकामनाएं  
  • आदिवासी मामलों के मंत्रालय
  • जनजातीय मामलों के मंत्रालय ने विशेष रूप से कमजोर जनजातीय समूहों के विकास के लिए योजना में संशोधन किया  
  • कृषि मंत्रालय
  • खरीफ फसलों का रकबा अब तक 764 लाख हेक्‍टेयर से भी ज्‍यादा  
  • सूखा प्रभावित किसानों को मुआवजा   
  • प्राकृतिक आपदाओं के कारण हुई फसल क्षति के लिए मुआवजा  
  • गृह मंत्रालय
  • आतंकवाद और गुरदासपुर हमले पर लोक सभा में गृहमंत्री श्री राजनाथ सिंह का वक्तव्य   
  • पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय
  • अंतर्राष्ट्रीय बाजार में भारतीय बॉस्केट के कच्चे तेल की कीमत 30-07-2015 को 53.78 अमरीकी डॉलर प्रति बैरल रही  
  • युवा मामले और खेल मंत्रालय
  • श्री सर्बानंद सोनोवाल ने क्रिकेटर आर. अश्विन को 2014 के अर्जुन पुरुस्कार से सम्मानित किया  
  • रेल मंत्रालय
  • श्री गंगा राम अग्रवाल ने रेलवे बोर्ड में नये सचिव के रूप में पदभार संभाला   
  • वस्त्र मंत्रालय
  • प्रथम राष्ट्रीय हथकरघा दिवस 7 अगस्त, 2015 को मनाया जाएगा   
  • वित्त मंत्रालय
  • वित्‍त मंत्री ने कहा, 'सरकार ने बैंक पूंजीकरण के लिए चार वर्षीय योजना बनाई है'  
  • सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय
  • बायो-डीजल चालित वाहनों हेतु व्‍यापक उत्‍सर्जन मानकों के लिए अधिसूचना का मसौदा तैयार  

 
गृह मंत्रालय03-अगस्त, 2014 16:35 IST

प्रधानमंत्री ने कोसी बाढ़ की स्थिति से निपटने के लिए पूरी केंद्रीय सहायता के निर्देश दिए
राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन समिति प्रयासों में समन्वय करेगी

Do you suffer from Pain & Burning sensation

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने बिहार में कोसी बाढ़ की स्थिति पर चिंता प्रकट की है तथा निर्देश दिए हैं कि सभी संभव सहायता उपलब्ध कराई जानी चाहिए।

      कैबिनेट सचिव श्री अजित सेठ ने कल दोपहर से राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन समिति की तीन आपात बैठकों की अध्यक्षता की। दो बैठकें कल आयोजित की गई। एक बैठक आज सुबह हुई तथा एक और बैठक आज शाम को होगी।

      कैबिनेट सचिव राज्य के मुख्य सचिव के साथ निरंतर और सीधे संपर्क में हैं। संबंधित अधिकारियों के साथ समन्वय के लिए निम्नलिखित प्रयास किए गए हैं:-

  • बिहार राज्य अधिकारियों ने अब तक 44,000 लोगों को निकाला है। राज्य प्रशासन से इस प्रक्रिया को तेज करने का अनुरोध किया गया है। 107 शिविर स्थापित किए गए हैं। इसके अलावा 30 पशु शिविर स्थापित किए गए हैं।
  • आरंभिक आकलन करने के लिए 6 व्यक्तियों की लघु आकलन टीम कल रात नेपाल पहुंच गई जिसमें 2 सीडब्ल्यूसी, 2 एनडीआरएफ, 1 भारतीय सेना और 1 जीएसआई का व्यक्ति है।
  • केंद्रीय जल आयोग पानी अचानक छोड़े जाने के संभावित असर का आकलन करने के लिए कम्प्यूटर से अभ्यास कर रहा है।
  • अब तक छोड़ा गया पानी चिंताजनक नहीं है। लेकिन यह अनुमान नहीं लगाया जा सकता कि पानी का प्रवाह अचानक कब बढ़ेगा। सीडब्ल्यूसी परामर्श जारी कर रही है।

एनडीआरएफ

  • एनडीआरएफ के 8 दल पहले ही तैनात कर दिए गए हैं।
  • 7 और दल तैनात की जाएंगी जिनमें से 4 पहुंच चुकी हैं और 3 रास्ते में हैं। 5 और दल तैयार रखे गए हैं।
  • एनडीआरएफ फाइबर नौकाओं सहित नौकाएं ले जा रहा है।

 

सेना/वायु सेना

  • 1 समग्र कॉलम सुपौल और एक सहरसा पहुंच गई है। 3 और कॉलम सुकना से कटिहार ले जाई गई हैं।
  • 1 इंजीनियरिंग टास्क फोर्स (ईटीएफ) दानापुर पहुंच गई है, 2 और ईटीएफ भेजी जा रही हैं।
  • लोगों तथा संचार उपकरणों को पूर्णिया ले जाने के लिए 1 एएन-32 विमान दिल्ली से आगरा पहुंच गया है तथा 1 और आगरा में तैयार रखा गया है।
  • गोरखपुर, बगडोगरा और बैरकपुर में एमआई-17 हेलीकॉप्टर तैयार रखे गए हैं।
  • 2 चेतक और 4 एमआई - 17 बिहटा (पटना के निकट) भी भेजे गए हैं।
  • नौसेना के गोताखोर दल तैयार रखे गए हैं।

 

चिकित्सा सहायता

  • करीब 1600 घंटे पर 1 सी-17 विमान पटना के जाना है जिसमें मेडिकल टीम है। इस टीम में 25 व्यक्ति (2 चिकित्सा अधिकारी, 1 निवारक औषधि विशेषज्ञ और एक मेडिकल विशेषज्ञ ) शामिल हैं। विमान में 30 मिलियन टन सामान (स्ट्रेचर इत्यादि ) है।
  • भारत सरकार के दिल्ली स्थित अस्पतालों से 20 डाूक्टर भी इस विमान में जा रहे हैं।

संचार

  • भारत सरकार ने बिहार की राज्य सरकार को कल रात 15 सेटेलाइट फोन दिए। एनडीआरएफ टीम भी सेटेलाइट फोन ले जा रही हैं।
  • अंतरिक्ष विभाग भी उपग्रह से जानकारी प्राप्त करेगा और कल से उपलब्ध करानी शुरू करेगा।

अनाज

  • खाद्य विभाग से पूरी सहायता देने के लिए कहा गया है।
  • प्रभावित क्षेत्रों में भारतीय खाद्य निगम के गोदामों में पर्याप्त अनाज उपलब्ध है

 

 

 

****

 

वि. कासोटिया / पी के - 2931

(Release ID 29418)


  विज्ञप्ति को कुर्तिदेव फोंट में परिवर्तित करने के लिए यहां क्लिक करें
डिज़ाइन एवं होस्‍ट राष्‍ट्रीय सूचना केंद्र (एनआईसी),सूचना उपलब्‍ध एवं अद्यतन की गई पत्र सूचना कार्यालय
ए खण्‍ड शास्‍त्री भवन, डॉ- राजेंद्र प्रसाद रोड़, नई दिल्‍ली- 110 001 फ़ोन 23389338