विज्ञप्तियां उर्दू विज्ञप्तियां फोटो निमंत्रण लेख प्रत्यायन फीडबैक विज्ञप्तियां मंगाएं Search उन्नत खोज
RSS RSS
Quick Search
home Home
Releases Urdu Releases Photos Invitations Features Accreditation Feedback Subscribe Releases Advance Search
हिंदी विज्ञप्तियां
तिथि माह वर्ष
  • उप राष्ट्रपति सचिवालय
  • आधुनिक सुरक्षा माहौल में सुरक्षा बलों को आधुनिक तकनीकी ज्ञान होना आवश्यक – उपराष्ट्रपति  
  • प्रधानमंत्री कार्यालय
  • प्रधानमंत्री ने प्रयागराज में एक नए हवाई अड्डा परिसर एवं कुंभ मेले के लिए समेकित कमान एवं नियंत्रण केन्द्र का उद्घाटन किया; विकास परियोजनाएं आरम्भ कीं  
  • प्रधानमंत्री ने रायबरेली में विकास परियोजनाएं आरम्भ कीं  
  • प्रधानमंत्री ने विजय दिवस के अवसर पर 1971 के युद्ध सैनिकों को नमन किया  
  • गृह मंत्रालय
  • “पिछले चार वर्षों के दौरान आंतरिक सुरक्षा परिदृश्य में व्यापक सुधार आया है”: केन्द्रीय गृह मंत्री  
  • पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय
  • दक्षिण-पश्चिम एवं बंगाल की खाड़ी से सटे हुए पश्चिम-मध्य क्षेत्र के ऊपर चक्रवाती तूफान ‘फेठई’  
  • पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय
  • पार्टियों के सम्मेलन (सीओपी) के 24वें सत्र का परिणाम सकारात्मकः भारत  
  • रक्षा मंत्रालय
  • सेना प्रमुख तंजानिया और केन्या का दौरा करेंगे  

 
प्रधानमंत्री कार्यालय25-अगस्त, 2014 19:31 IST

प्रधानमंत्री ने सभी बैंक अधिकारियों को ई-मेल भेजा

• हर परिवार के लिए बैंक खाता ‘राष्‍ट्रीय प्राथमिकता’ है

• अपनी ओर से अथक प्रयास करें ताकि कोई भी परिवार बगैर बैंक खाते के न रह जाए

• प्रधान मंत्री जन धन योजना देश भर में 28 अगस्‍त को शुरू की जाएगी, हर खाते के साथ एक डेबिट कार्ड और 1 लाख रुपए का दुर्घटना बीमा दिया जाएगा

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने सभी बैंक अधिकारियों को एक ई-मेल भेजा है जिसमें उनकी स्‍वतंत्रता दिवस घोषणा ‘प्रधान मंत्री जन धन योजना’ का जिक्र है, जो वित्‍तीय समावेशन पर राष्‍ट्रीय मिशन है और जिसका उद्देश्‍य देश भर में सभी परिवारों को बैंकिंग सुविधाएं मुहैया कराना और हर परिवार का बैंक खाता खोलना है।

प्रधानमंत्री ने इसे अत्‍यंत बड़ी जिम्‍मेदारी करार देते हुए कहा है, ‘हमें सात करोड़ से भी ज्‍यादा परिवारों को प्रवेश देने और उनका खाता खोलने की जरूरत है। यह राष्‍ट्रीय प्राथमिकता है और हमें इस चुनौती का मुकाबला करने के लिए निश्चित रूप से तैयार हो जाना चाहिए। इस प्रक्रिया की अहमियत को समझने की जरूरत है क्‍योंकि महज इस एक कमी के चलते सभी अन्‍य विकास गतिविधियां अटकती जा रही हैं। मुझे भरोसा है कि हम सभी मिलकर इस स्थिति से निपट लेंगे।’

प्रधानमंत्री ने बैंक अधिकारियों से आग्रह करते हुए कहा है, ‘आप चक्र को अपने कंधे का सहारा दीजिए और अपनी ओर से अथक प्रयास कीजिए ताकि कोई भी ऐसा परिवार न छूट जाए जिसके पास कोई बैंक खाता न हो। यह अपने-आप में आपके और आपकी टीम के लिए अत्‍यंत संतुष्टि का एक अहम स्रोत साबित होगा। मैं खुद सर्वश्रेष्‍ठ प्रदर्शन करने वाली शाखाओं की उपलब्धियों को ध्‍यान में रखूंगा।’

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘प्रधान मंत्री जन धन योजना सब का साथ सब का विकास की हमारी विकास अवधारणा का अहम भाग है। जिस तरह से हम आधुनिक बैंकिंग एवं वित्‍तीय प्रणालियों वाले इस ज्ञान युग में आगे बढ़ रहे हैं, वैसे में यह बात असहनीय है कि हमारी आबादी का एक बड़ा हिस्‍सा बुनियादी बैंकिंग सुविधाओं से वंचित रह जाए। मुझे कभी-कभी यह सोचकर आश्‍चर्य लगता है कि क्‍या हमने स्थितियां इतनी जटिल कर दी हैं जिससे कि गरीब और हाशिए में खड़े लोगों को सुविधाओं से वंचित रहना पड़ रहा है। हमें इस कुचक्र को तोड़ने की जरूरत है तथा जन धन योजना इस दिशा में पहला कदम साबित होगी। एक बैंक खाता खुल जाने के बाद हर परिवार को बैंकिंग और कर्ज की सुविधाएं सुलभ हो जाएंगी। इससे उन्‍हें साहूकारों के चंगुल से बाहर निकलने, आपातकालीन जरूरतों के चलते पैदा होने वाले वित्‍तीय संकटों से खुद को दूर रखने और तरह-तरह के वित्‍तीय उत्‍पादों से लाभान्वित होने का मौका मिलेगा।’

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘पहले कदम के रूप में प्रधान मंत्री जन धन योजना के तहत हर खाता धारक को एक रुपे डेबिट कार्ड और एक लाख रुपए का दुर्घटना बीमा दिया जाएगा। आगे चलकर इन लोगों को बीमा और पेंशन उत्‍पादों के दायरे में लाया जाएगा।’

प्रधानमंत्री ने यह भी कहा, ‘मुझे भरोसा है कि आप इस चुनौती का मुकाबला कर इस राष्‍ट्रीय प्रयास में अपना अहम योगदान करेंगे। मैं आपकी मदद के लिए मौजूद हूं।’ प्रधान मंत्री जन धन योजना देश भर में एक साथ 28 अगस्‍त, 2014 को शुरू की जाएगी। प्रधानमंत्री इसे दिल्‍ली में औपचारिक रूप से शुरू करेंगे। राज्‍य स्‍तर पर भी इसके समानांतर समारोह आयोजित किए जाएंगे जिनमें केंद्रीय मंत्री शिरकत करेंगे। जिला और उप-जिला स्‍तरों पर भी इस तरह के समारोह आयोजित किए जाएंगे। शाखा स्‍तर पर शिविर भी लगाए जाएंगे।

वि.कासोटिया/एएम/आरआरएस/एसएनटी-3353
(Release ID 29910)


  विज्ञप्ति को कुर्तिदेव फोंट में परिवर्तित करने के लिए यहां क्लिक करें
डिज़ाइन एवं होस्‍ट राष्‍ट्रीय सूचना केंद्र (एनआईसी),सूचना उपलब्‍ध एवं अद्यतन की गई पत्र सूचना कार्यालय
ए खण्‍ड शास्‍त्री भवन, डॉ- राजेंद्र प्रसाद रोड़, नई दिल्‍ली- 110 001 फ़ोन 23389338