विज्ञप्तियां उर्दू विज्ञप्तियां फोटो निमंत्रण लेख प्रत्यायन फीडबैक विज्ञप्तियां मंगाएं Search उन्नत खोज
RSS RSS
Quick Search
home Home
Releases Urdu Releases Photos Invitations Features Accreditation Feedback Subscribe Releases Advance Search
हिंदी विज्ञप्तियां
तिथि माह वर्ष
  • उप राष्ट्रपति सचिवालय
  • उपराष्ट्रपति ने आईटी प्रोफेशनलों से कहा, ‘लोगों के जीवन में सकारात्मक बदलाव लाने के लिए विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी का उपयोग करें’  
  • कॉर्पोरेट मामलों के मंत्रालय
  • आईईपीएफ प्राधिकरण को बड़ी कामयाबी मिली, जमाकर्ताओं के 1514 करोड़ रुपये वसूलेः यह निवेशक संरक्षण की दिशा में अभी तो बस एक शुरुआत है  
  • वित्त मंत्रालय
  • एनसीआर में ऊर्जा क्षेत्र के एक कंपनी समूह पर छापेमारी के संबंध में प्रेस नोट  

 
विद्युत मंत्रालय26-अगस्त, 2015 18:13 IST

सुश्री नीरजा माथुर ने गोवा और संघ शासित प्रदेशों के जेईआरसी के सदस्‍य का पदभार संभाला

सुश्री नीरजा माथुर ने आज गोवा और संघ शासित प्रदेशों के संयुक्‍त विद्युत नियामक आयोग (जेईआरसी) के सदस्‍य का पदभार संभाल लिया है। विद्युत, कोयला और नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा राज्‍य मंत्री (स्‍वतंत्र प्रभार) श्री पीयूष गोयल ने उन्‍हें पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई। इस अवसर पर विद्युत मंत्रालय और जेईआरसी के वरिष्‍ठ अधिकारी भी उपस्थित थे।

8 दिसम्‍बर, 1954 को जन्‍मी सुश्री नीरजा माथुर, बी.ई. और प्रौद्योगिकी में स्‍नातकोत्‍तर डिग्री प्राप्‍त कर चुकी हैं। वह नवम्‍बर, 2013 से दिसम्‍बर, 2014 तक सीईए की अध्‍यक्ष रहीं। इससे पूर्व वह सदस्‍य (ग्रिड अभियान और वितरण) रही हैं और उन्‍होंने सीईए के अन्‍य वरिष्‍ठ पदों पर भी कार्य किया है।

जेईआरसी की पृष्‍ठभूमि :

दिल्‍ली के अलावा सभी केन्‍द्र शासित प्रदेशों के लिए संयुक्‍त विद्युत नियामक आयोग (जेईआरसी) की स्‍थापना विद्युत अधिनियम 2013 के प्रावधानों के अंतर्गत भारत सरकार द्वारा की गई थी। इसके बाद इसमें गोवा भी शामिल हो गया। आयोग में एक अध्‍यक्ष और एक सदस्‍य होता है।

अधिनियम के अंतर्गत गोवा और संघ शासित प्रदेशों के लिए जीईआरसी के मुख्‍य कार्यों में गोवा और छह संघ शासित प्रदेशों में उत्‍पादन, आपूर्ति, पारेषण के लिए मूल्‍यों को तय करना और व्‍हीलिंग ऑफ इलैक्ट्रिसिटी, विद्युत खरीद को नियमित करना, वितरण लाइसेंस की खरीद प्रक्रिया, अंतर्राज्‍य पारेषण सुविधाएं प्रदान करना आदि शामिल हैं‍। इस अधिनियम के अंतर्गत संयुक्‍त आयोग राष्‍ट्रीय विद्युत नीति और शुल्‍क नीति के गठन, प्रतिस्‍पर्धा को प्रोत्‍साहन, विद्युत उद्योग की गतिविधियों में कुशलता और मितव्‍ययता, विद्युत उद्योग में निवेश को प्रोत्‍साहन आदि पर राज्‍य सरकार/संघ शासित प्रशासन को सलाह भी प्रदान करेगा।

***
वीजी/एएम/एसएस/वाईबी – 4248
(Release ID 39607)


  विज्ञप्ति को कुर्तिदेव फोंट में परिवर्तित करने के लिए यहां क्लिक करें
डिज़ाइन एवं होस्‍ट राष्‍ट्रीय सूचना केंद्र (एनआईसी),सूचना उपलब्‍ध एवं अद्यतन की गई पत्र सूचना कार्यालय
ए खण्‍ड शास्‍त्री भवन, डॉ- राजेंद्र प्रसाद रोड़, नई दिल्‍ली- 110 001 फ़ोन 23389338