विज्ञप्तियां उर्दू विज्ञप्तियां फोटो निमंत्रण लेख प्रत्यायन फीडबैक विज्ञप्तियां मंगाएं Search उन्नत खोज
RSS RSS
Quick Search
home Home
Releases Urdu Releases Photos Invitations Features Accreditation Feedback Subscribe Releases Advance Search
हिंदी विज्ञप्तियां
तिथि माह वर्ष
  • कार्मिक मंत्रालय, लोक शिकायत और पेंशन
  • एसीसी ने श्री आलोक वर्धन चतुर्वेदी के केन्द्रीय प्रतिनियुक्ति कार्यकाल में विस्तार को मंजूरी दी  
  • कॉर्पोरेट मामलों के मंत्रालय
  • भारतीय प्रतिस्‍पर्धा आयोग द्वारा ई- कॉमर्स बाजार का अध्‍ययन : नतीजे एक कार्यशाला में प्रस्‍तुत किए जाएंगे  
  • गृह मंत्रालय
  • राष्‍ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण - एनडीएमए ने गांबिया के प्रतिनिधिमंडल से मुलाकात की: आपदा जोखिम घटाने के उपायों पर हुई चर्चा  
  • रक्षा मंत्रालय
  • भारतीय तटरक्षक 19 जून को दिल्ली में 12वीं आरईसीएएपी आईएससी क्षमता निर्माण कार्यशाला की सह-मेजबानी करेगा  
  • रेल मंत्रालय
  • रेलवे बोर्ड ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए जोनल रेलवे/उत्‍पादन यूनिटों के महाप्रबंधकों (जीएम) और प्रभागीय रेल प्रबंधकों (डीआरएम) के साथ उच्‍चस्‍तरीय समीक्षा बैठक की    
  • वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय
  • वाणिज्‍य मंत्री ने ई-कॉमर्स और प्रौद्योगिकी क्षेत्र की कंपनियों के साथ बैठक की   
  • वित्त मंत्रालय
  • भारत सरकार ने भारतीय राजस्व सेवा (सीएंडसीई) के 15 वरिष्ठं अधिकारियों को तत्कााल प्रभाव से अनिवार्य सेवानिवृत्ति ‍ दी   
  • सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय
  • डांस आधारित रियलटी शो में बच्‍चों को सही तरीके से पेश किए जाने के बारे में निजी उपग्रह टीवी चैनलों को परामर्श जारी  
  • सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय
  • सड़क ट्रांसपोर्ट और राजमार्ग मंत्रालय ने ट्रांसपोर्ट वाहन चालकों के लिए न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता की आवश्यकता को हटाने का निर्णय लिया  

 
विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्रालय05-जनवरी, 2016 20:25 IST

आईएनसीओआईएस हैदराबाद में क्रियाशील समुद्री विज्ञान के लिए अंतर्राष्‍ट्रीय प्रशिक्षण केन्‍द्र की आधारशिला रखी गई

केन्‍द्रीय विज्ञान और प्रौद्योगिकी तथा पृथ्‍वी विज्ञान राज्‍य मंत्री श्री वाई एस चौधरी ने कहा है कि सरकार क्रियाशील समुद्री विज्ञान को प्रोत्‍साहित करना चाहती है क्‍योंकि यह विज्ञान के लाभ को साधारण जन तक पहुंचाता है। श्री चौधरी आईएनसीओआईएस हैदराबाद में

केन्‍द्रीय विज्ञान और प्रौद्योगिकी तथा पृथ्‍वी विज्ञान राज्‍य मंत्री श्री वाई एस चौधरी ने कहा है कि सरकार क्रियाशील समुद्री विज्ञान को प्रोत्‍साहित करना चाहती है क्‍योंकि यह विज्ञान के लाभ को साधारण जन तक पहुंचाता है। श्री चौधरी आईएनसीओआईएस हैदराबाद में क्रियाशील समुद्री विज्ञान के लिए अंतर्राष्‍ट्रीय प्रशिक्षण केन्‍द्र की आधारशिला रख रहे थे। उन्‍होंने कहा कि ऐसे लाभ मछुआरों को सलाह देने , समुद्री स्थिति का पूर्वानुमान व्‍यक्‍त करने , सुनामी तथा तूफान संबंधी प्रारम्भिक चेतावनी देने में काम आते हैं। उन्‍होंने कहा कि ऐसी संचालन सेवाएं देने में ईएसएसओ-आईएनसीओआईएस अग्रणी भूमिका निभा रहे हैं इसलिए भारत सरकार ने ईएसएसओ-आईएनसीओआईएस में आईटीसीओ ओशन स्थापित करने का निर्णय लिया है। उन्होंने बताया कि भारत सरकार ने इसके लिए 5 वर्षों में 100 करोड़ से अधिक रुपये दिये हैं।

DSC02853-min

 

श्री चौधरी ने बताया कि अंतर्राष्‍ट्रीय प्रशिक्षण केन्‍द्र पृथ्‍वी विज्ञान मंत्रालय द्वारा स्‍थापित किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि भारत सरकार अंतर सरकारी समुद्री विज्ञान आयोग (आईओसी)/ संयुक्‍त राष्‍ट्र शैक्षिण, वैज्ञानिक तथा सांस्‍कृतिक संगठन (यूनेस्‍को) को उनके क्षमता सृजन प्रयास में सहायता देने के लिए वचनबद्ध है।

आईटीसीओ ओशन ने अब तक 22 देशों के 360 शोधकर्ताओं, विश्‍वविद्यालय के छात्रों, केन्‍द्र सरकार के अधिकारियों को प्रशिक्षित करने के लिए 6 अंतर्राष्‍ट्रीय और 7 राष्‍ट्रीय प्रशिक्षण कार्यक्रम चलाये हैं। 

   

 

***

एजी/वीके-84

(Release ID 44060)


  विज्ञप्ति को कुर्तिदेव फोंट में परिवर्तित करने के लिए यहां क्लिक करें
डिज़ाइन एवं होस्‍ट राष्‍ट्रीय सूचना केंद्र (एनआईसी),सूचना उपलब्‍ध एवं अद्यतन की गई पत्र सूचना कार्यालय
ए खण्‍ड शास्‍त्री भवन, डॉ- राजेंद्र प्रसाद रोड़, नई दिल्‍ली- 110 001 फ़ोन 23389338