विज्ञप्तियां उर्दू विज्ञप्तियां फोटो निमंत्रण लेख प्रत्यायन फीडबैक विज्ञप्तियां मंगाएं Search उन्नत खोज
RSS RSS
Quick Search
home Home
Releases Urdu Releases Photos Invitations Features Accreditation Feedback Subscribe Releases Advance Search
हिंदी विज्ञप्तियां
तिथि माह वर्ष
  • राष्ट्रपति सचिवालय
  • भारत के राष्ट्रपति श्री राम नाथ कोविन्द का श्री माता वैष्णो देवी विश्वविद्यालय के छठे दीक्षांत समारोह में सम्बोधन   
  • भारत के राष्ट्रपति श्री राम नाथ कोविन्द जी का नागरिक अभिनंदन समारोह में सम्बोधन   
  • उप राष्ट्रपति सचिवालय
  • स्वास्थ्य कवरेज योजनाओं का दायरा व्यापक होना चाहिएः उपराष्ट्रपति  
  • प्रधानमंत्री कार्यालय
  • भारत एवं नार्डिक देशों के बीच शिखर सम्मेलन का संयुक्त पत्रकार वक्तव्य   
  • प्रधानमंत्री ने स्टॉकहोम में भारतीय समुदाय को संबोधित किया  
  • अंतरिक्ष विभाग
  • इसरो अध्यक्ष ने आगामी चन्द्रमा मिशन ‘चंद्रयान-2’ के बारे में डॉ जितेन्द्र सिंह को जानकारी दी  
  • इसरो अध्यक्ष ने आगामी चन्द्रमा मिशन ‘चंद्रयान-2’ के बारे में डॉ जितेन्द्र सिंह को जानकारी दी   
  • आवास और शहरी गरीबी उपशमन मंत्रालय
  • स्‍वच्‍छ भारत मिशन (शहरी) के तहत 7 स्‍टार तक की रेटिंग प्राप्‍त करने के योग्‍य शहर - कचरा मुक्‍त शहरों के लिए स्‍टार रेटिंग प्रणाली पर पहली क्षेत्रीय कार्यशाला का उद्घाटन  
  • चुनाव आयोग
  •  आईआईआईडीईएम ने कजाखस्तान के केन्द्रीय चुनाव आयोग के शिष्टमंडल के लिए दो दिवसीय परामर्श कार्यशाला का आयोजन किया  
  • रक्षा मंत्रालय
  • अभ्‍यास गगनशक्ति – 2018 एडवांस लैंडिंग ग्राउंड ऑपरेशन   
  • रेल मंत्रालय
  • छत्तीसगढ़ के लिए बड़ा प्रोत्साहनः प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने माओवादी उग्रवाद से प्रभावित क्षेत्र में रेल लाइन का उद्घाटन किया  
  • वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय
  • जिलों के विकास में तेजी के लिए तीन प्रतिशत की अतिरिक्‍त वृद्धि की योजना  
  • वित्त मंत्रालय
  • 6 और राज्य 20 अप्रैल से अपने-अपने राज्यों के अंदर ई-वे बिल लागू करेंगे  
  • श्रम एवं रोजगार मंत्रालय
  • भवन और अन्य निर्माण श्रमिकों का पंजीकरण बढ़ाने के लिए विशेष अभियान की आवश्यकताः संतोष कुमार गंगवार  
  • सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय
  • दिव्यांग युवाओं के लिए वैश्विक सूचना प्रोद्योगिकी प्रतियोगिता (जीआईटीसी) 2018 का आयोजन नई दिल्ली में 8 से 11 नवंबर 2018 तक किया जाएगा  

 
रक्षा मंत्रालय09-जनवरी, 2016 15:52 IST

अर्जुन एमबीटी के लिए नए टैंक गोला-बारुद का परीक्षण

रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (डीआरडीओ) ने 6 जनवरी, 2016 को ओडिशा के चांदीपुर में अर्जुन टैंक के लिए विशेष रूप से डिजाइन किए गए नए टैंक गोला-बारुद, पेनेट्रेशन कम ब्‍लास्‍ट (पीसीबी) और थर्मोबेरिक (टीबी) का सफल परीक्षण किया। परीक्षण अति प्रभावशाली रहा। लक्षित टैंक को नष्‍ट करने के लिए चलाया गया गोला-बारुद काफी विध्‍वंसक था, जिससे टैंक का बुर्ज, बैरल, पटरियां, गोला-बारुद बिन, विभिन्‍न स्‍थान, एंटीना आदि को काफी क्षति पहुंची। यह गोला-बारुद पूणे के डीआरडीओ की प्रयोगशालाओं, आयुध अनुसंधान एवं विकास स्‍थापना (एआरडीई) तथा उच्‍च ऊर्जा सामग्री अनुसंधान प्रयोगशाला (एचईएमआरएल) द्वारा विकसित किया गया। टीबी गोला-बारुद के लिए व्‍यापक शोध करने के बाद एचईएमआरएल ने एक नवीन रसायनिक संघटक विकसित किया गया। विकसित करने के दौरान इन गोला-बारुदों का बड़े पैमाने पर विभिन्‍न नकली ठिकानों अर्थात कवच प्‍लेटों, ठोस संरचनाओं और किलेबंदी पर इनके असर का मूल्‍यांकन किया गया था। यह परीक्षण संयुक्‍त रूप से सेना के साथ किया गया था। इसका उद्देश्‍य विभिन्‍न स्‍थानों और उन्‍नत इमेजिंग प्रणाली पर झटकें, विस्‍फोट का दवाब तथा तापमान मापने के उपकरण से लैस टैंक पर गोला-बारुद के प्रभाव को प्रदर्शित करना था। यह परीक्षण अद्वितीय था क्‍योंकि भारत में पहली बार इस तरह का मूल्‍यांकन किया गया और इससे अर्जुन टैंकों की मारक क्षमता बढ़ेगी।

तकनीकी परीक्षण के दौरान एचईएमआरएल एंड पीएक्‍सई और डीक्‍यूआरएस के निदेशक, सैन्‍य प्रतिनिधि तथा डीआरडीओ के अन्‍य वरिष्‍ठ अधिकारी उपस्‍थित थे।

****


एमके/एसकेपी – 187
(Release ID 44182)


  विज्ञप्ति को कुर्तिदेव फोंट में परिवर्तित करने के लिए यहां क्लिक करें
डिज़ाइन एवं होस्‍ट राष्‍ट्रीय सूचना केंद्र (एनआईसी),सूचना उपलब्‍ध एवं अद्यतन की गई पत्र सूचना कार्यालय
ए खण्‍ड शास्‍त्री भवन, डॉ- राजेंद्र प्रसाद रोड़, नई दिल्‍ली- 110 001 फ़ोन 23389338