विज्ञप्तियां उर्दू विज्ञप्तियां फोटो निमंत्रण लेख प्रत्यायन फीडबैक विज्ञप्तियां मंगाएं Search उन्नत खोज
RSS RSS
Quick Search
home Home
Releases Urdu Releases Photos Invitations Features Accreditation Feedback Subscribe Releases Advance Search
हिंदी विज्ञप्तियां
तिथि माह वर्ष
  • प्रधानमंत्री कार्यालय
  • प्रधानमंत्री ने राष्‍ट्रीय ग्रामीण स्‍वराज अभियान की शुरूआत की; जनजातियों  के समस्‍त विकास के लिए रोडमैप का अनावरण किया  
  • कार्मिक मंत्रालय, लोक शिकायत और पेंशन
  • डॉ. जितेन्द्र सिंह लोक नायक भवन स्थित कार्मिक, प्रशिक्षण विभाग, पेंशन तथा अंतरिक्ष विभाग के कार्यालय का दौरा किया  
  • गृह मंत्रालय
  • श्री राजनाथ सिंह ने द्वीप विकास एजेंसी की तीसरी बैठक की अध्यक्षता की  
  • पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय
  • "2030 तक भूक्षरण प्रक्रिया को थामना बेहद जरुरी:  डॉ. हर्षवर्धन  
  • वित्त मंत्रालय
  • असम में विकास के बावजूद ढांचागत समस्याओं का समयबद्ध समाधान जरूरीः  वित्त आयोग  

 
विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्रालय18-जनवरी, 2016 19:46 IST

वैज्ञानिक मनोदशा को प्रोत्साहित करने के लिए समर्पित विज्ञान और टेक्नोलॉजी टीवी चैनल की जरूरतः श्याम बेनेगल

जाने-माने फिल्मकार श्री श्याम बेनेगल ने वैज्ञानिक मनोदशा को प्रोत्साहित करने के लिए 24 घंटे का समर्पित विज्ञान और टेक्नोलॉजी टेलीविजन चैनल प्रारंभ करने की वकालत की है।

आज मुम्बई में नेहरू विज्ञान केन्द्र में राष्ट्रीय विज्ञान फिल्म समारोह के बारे में आयोजित संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए श्री श्याम बेनेगल ने कहा कि नागरिकों में वैज्ञानिक मनोदशा तथा विवेकशील चिंतन को बढ़ावा देने में समर्पित टीवी चैनल महत्वपूर्ण भूमिका अदा करेगा। उन्होंने कहा कि विज्ञान, टेक्नोलॉजी, पर्यावरण, स्वास्थ्य तथा स्वच्छता जैसे विषयों को प्रमुखता से उठाने के लिए ऐसा चैनल समय की आवश्यकता है। श्री बेनेगल ने कहा कि विज्ञान और टेकनोलॉजी टीवी चैनल वैज्ञानिक मनोदशा को प्रचारित करने और विवेक संगत समाज बनाने के लिए जीवन दान करने वाले स्वर्गीय नरेन्द्र नाथ दाभगोलकर के प्रति सच्ची श्रद्धांजलि होगी।

श्री बेनेगल ने 09 से 13 फरवरी, 2016 तक मुम्बई में छठा राष्ट्रीय विज्ञान फिल्म समारोह आयोजित करने के लिए भारत सरकार के विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय के अंतर्गत स्वायत्त संस्था नेहरू विज्ञान केन्द्र और विज्ञान प्रसार की सराहना की। उन्होंने बताया कि समारोह के दौरान 45 फिल्में दिखाई जाएंगी। उन्होंने कहा कि पेशेवर लोगों तथा स्कूली विद्यार्थियों द्वारा बनायी गई गुणवत्ता सम्पन्न फिल्में देखकर निर्णायक मंडल को खुशी हुई। अधिकतर फिल्मों में पर्यावरण, आजीविका, स्वास्थ्य, स्थानीय नवाचार जैसे विषय उठाए गए हैं। विजेता फिल्मों को सिल्वर बीवर पुरस्कार तथा नकद पुरस्कार दिए जाएगे। श्री श्याम बेनेगल राष्ट्रीय निर्णायक मंडल के अध्यक्ष हैं। निर्णायक मंडल के अन्य सदस्यों में वरिष्ठ लेखक तथा कला निर्देशक सुश्री शमा जैदी, फिल्म एडिटर श्री असीम सिन्हा, प्रोफेसर इफ्तेखार अहमद, निदेशक नई दिल्ली, प्रसार भारती की अपर महानिदेशक सुश्री अपर्णा वैश, टीआईएफआर के प्रतिष्ठित प्रोफेसर डॉ सब्यसाची भट्टाचार्य, लेखक क्यूरेटर तथा इतिहासकार श्री अमृत गंगर, फिल्मकार सुश्री अरुणा राजे पाटिल तथा पर्यावरणविद डॉ. अनिल पी. जोशी शामिल हैं।

राष्ट्रीय विज्ञान फिल्म समारोह 2016 में विज्ञान फिल्म बनाने के बारे में कार्यशाला का आयोजन किया जाएगा जिसमें जाने-माने विज्ञान फिल्मकार अपना अनुभव साझा करेंगे। फिल्मों में रूचि रखने वाले लोग www.vigyanprasar.gov.in. पर ऑनलाइन आवेदन कर कार्यशाला में भाग ले सकते हैं।

***


एजी/डीसी - 385
(Release ID 44385)


  विज्ञप्ति को कुर्तिदेव फोंट में परिवर्तित करने के लिए यहां क्लिक करें
डिज़ाइन एवं होस्‍ट राष्‍ट्रीय सूचना केंद्र (एनआईसी),सूचना उपलब्‍ध एवं अद्यतन की गई पत्र सूचना कार्यालय
ए खण्‍ड शास्‍त्री भवन, डॉ- राजेंद्र प्रसाद रोड़, नई दिल्‍ली- 110 001 फ़ोन 23389338