विज्ञप्तियां उर्दू विज्ञप्तियां फोटो निमंत्रण लेख प्रत्यायन फीडबैक विज्ञप्तियां मंगाएं Search उन्नत खोज
RSS RSS
Quick Search
home Home
Releases Urdu Releases Photos Invitations Features Accreditation Feedback Subscribe Releases Advance Search
हिंदी विज्ञप्तियां
तिथि माह वर्ष
  • राष्ट्रपति सचिवालय
  • राष्‍ट्रपति ने प्रोफेसर पी सी महालनोबिस के 125वें जन्‍मोत्‍सव में हिस्‍सा लिया  
  • कांगो के राष्ट्रीय दिवस की पूर्व संध्या पर राष्ट्रपति का संदेश   
  • अंतरिक्ष विभाग
  • भारत के संचार उपग्रह जीसेट-17 का सफलतापूर्वक प्रक्षेपण   
  • अल्‍पसंख्‍यक कार्य मंत्रालय
  • श्री मुख्तार अब्बास नकवी ने सेंट्रल वक्फ कौंसिल की 76वी बैठक को संबोधित किया   
  • उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय, खाद्य और सार्वजनिक वितरण
  • श्री राम विलास पासवान ने लीगल मेट्रोलॉजी (पैकेज्‍ड कमोडिटीज) नियम, 2011 में संशोधन को मंजूरी दी   
  • कानून एवं न्याय मंत्रालय
  • जेल बंदियों को कानूनी सेवाएं देने के लिए वेब एप्लीकेशन लांच   
  • कार्मिक मंत्रालय, लोक शिकायत और पेंशन
  • एसीसी नियुक्ति  
  • गृह मंत्रालय
  • भूकंप की तैयारियों की जांच के लिए एनडीएमए कल दिल्‍ली में मॉक अभ्‍यास करेगा       
  • कर्नाटक को केंद्रीय मदद प्रदान करने के लिए गृहमंत्री ने उच्‍च स्‍तरीय समिति की बैठक की अध्‍यक्षता की   
  • केंद्रीय गृह मंत्री श्री राजनाथ सिंह ने कर्नाटक को केंद्रीय सहायता पर उच्च स्तरीय समिति की बैठक की अध्यक्षता की  
  • चुनाव आयोग
  • उपराष्ट्रपति पद का चुनाव, (उपराष्ट्रपति पद का 15वां चुनाव)   
  • अरुणाचल प्रदेश और नागालैंड विधानसभा की खाली सीटों पर कराए जाने वाले उप-चुनावों का कार्यक्रम   
  • जल संसाधन मंत्रालय
  • देश के 91 प्रमुख जलाशयों का जलस्तर उनकी संग्रहण क्षमता का 19 प्रतिशत   
  • पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय
  • भारतीय बास्केट के कच्चे तेल की अंतर्राष्ट्रीय कीमत 28.06.2017 को 45.64 अमेरिकी डॉलर प्रति बैरल रही   
  • युवा मामले और खेल मंत्रालय
  • सरकार खेलों के विकास के लिए एक स्‍वस्‍थ माहौल प्रदान करने के लिए कठिन डोपिंग रोधक उपायों को अपनाने के लिए प्रतिबद्ध है: विजय गोयल  
  • खेल विभाग द्वारा नियुक्‍त राष्‍ट्रीय पर्यवेक्षकों की भूमिका  
  • रेल मंत्रालय
  • रेल मंत्री श्री सुरेश प्रभाकर प्रभु ने काजीगुंड-बारामूला के बीच पांच नये हॉल्ट स्टेशनों की आधारशिला रखी   
  • वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय
  • सितंबर 2017 में विदेश व्‍यापार नीति की मध्‍यावधि समीक्षा जारी   
  • डीजीएफटी की निर्यात प्रोत्साहन योजनाओं पर एमआईएस रिपोर्ट  
  • वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री ने एशियाई विकास बैंक के अध्‍यक्ष के साथ बुनियादी ढांचे के विकास के बारे में विचार-विमर्श किया   
  • विद्युत मंत्रालय
  • सऊदी अरब साम्राज्य ऊर्जा दक्षता कार्यक्रम लागू करेगा, ईईएसएल के साथ समझौता किया  
  • भारत इलेक्ट्रिक ग्रिड में 175 गीगावाट नवीकरणीय ऊर्जा एकीकृत कर सकता है : अध्ययन  
  • शिपिंग मंत्रालय
  • राष्ट्रीय साइबर सुरक्षा समन्वयक ने जवाहरलाल नेहरू पोर्ट ट्रस्‍ट का दौरा किया और इस पोर्ट के एक ट्रर्मिनल के परिचालनों को बाधित करने वाले साइबर हमले के प्रभाव का आकलन किया   
  • संस्कृति मंत्रालय
  • साहित्‍य अकादमी ने युवा पुरस्‍कार 2018 के लिए भारतीय युवा लेखकों और प्रकाशकों से पुस्‍तकें आमंत्रित की  
  • सांख्यिकी एवं कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय
  • 11वां सांख्यिकी दिवस मनाया गया  
  • भारत में असमाविष्ट गैर-कृषि उद्यमों (निर्माण को छोड़कर) के मुख्य संकेतकों के संबंध में प्रेस नोट (जुलाई 2015-जून 2016)   

 
विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्रालय18-जनवरी, 2016 19:46 IST

वैज्ञानिक मनोदशा को प्रोत्साहित करने के लिए समर्पित विज्ञान और टेक्नोलॉजी टीवी चैनल की जरूरतः श्याम बेनेगल

जाने-माने फिल्मकार श्री श्याम बेनेगल ने वैज्ञानिक मनोदशा को प्रोत्साहित करने के लिए 24 घंटे का समर्पित विज्ञान और टेक्नोलॉजी टेलीविजन चैनल प्रारंभ करने की वकालत की है।

आज मुम्बई में नेहरू विज्ञान केन्द्र में राष्ट्रीय विज्ञान फिल्म समारोह के बारे में आयोजित संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए श्री श्याम बेनेगल ने कहा कि नागरिकों में वैज्ञानिक मनोदशा तथा विवेकशील चिंतन को बढ़ावा देने में समर्पित टीवी चैनल महत्वपूर्ण भूमिका अदा करेगा। उन्होंने कहा कि विज्ञान, टेक्नोलॉजी, पर्यावरण, स्वास्थ्य तथा स्वच्छता जैसे विषयों को प्रमुखता से उठाने के लिए ऐसा चैनल समय की आवश्यकता है। श्री बेनेगल ने कहा कि विज्ञान और टेकनोलॉजी टीवी चैनल वैज्ञानिक मनोदशा को प्रचारित करने और विवेक संगत समाज बनाने के लिए जीवन दान करने वाले स्वर्गीय नरेन्द्र नाथ दाभगोलकर के प्रति सच्ची श्रद्धांजलि होगी।

श्री बेनेगल ने 09 से 13 फरवरी, 2016 तक मुम्बई में छठा राष्ट्रीय विज्ञान फिल्म समारोह आयोजित करने के लिए भारत सरकार के विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय के अंतर्गत स्वायत्त संस्था नेहरू विज्ञान केन्द्र और विज्ञान प्रसार की सराहना की। उन्होंने बताया कि समारोह के दौरान 45 फिल्में दिखाई जाएंगी। उन्होंने कहा कि पेशेवर लोगों तथा स्कूली विद्यार्थियों द्वारा बनायी गई गुणवत्ता सम्पन्न फिल्में देखकर निर्णायक मंडल को खुशी हुई। अधिकतर फिल्मों में पर्यावरण, आजीविका, स्वास्थ्य, स्थानीय नवाचार जैसे विषय उठाए गए हैं। विजेता फिल्मों को सिल्वर बीवर पुरस्कार तथा नकद पुरस्कार दिए जाएगे। श्री श्याम बेनेगल राष्ट्रीय निर्णायक मंडल के अध्यक्ष हैं। निर्णायक मंडल के अन्य सदस्यों में वरिष्ठ लेखक तथा कला निर्देशक सुश्री शमा जैदी, फिल्म एडिटर श्री असीम सिन्हा, प्रोफेसर इफ्तेखार अहमद, निदेशक नई दिल्ली, प्रसार भारती की अपर महानिदेशक सुश्री अपर्णा वैश, टीआईएफआर के प्रतिष्ठित प्रोफेसर डॉ सब्यसाची भट्टाचार्य, लेखक क्यूरेटर तथा इतिहासकार श्री अमृत गंगर, फिल्मकार सुश्री अरुणा राजे पाटिल तथा पर्यावरणविद डॉ. अनिल पी. जोशी शामिल हैं।

राष्ट्रीय विज्ञान फिल्म समारोह 2016 में विज्ञान फिल्म बनाने के बारे में कार्यशाला का आयोजन किया जाएगा जिसमें जाने-माने विज्ञान फिल्मकार अपना अनुभव साझा करेंगे। फिल्मों में रूचि रखने वाले लोग www.vigyanprasar.gov.in. पर ऑनलाइन आवेदन कर कार्यशाला में भाग ले सकते हैं।

***


एजी/डीसी - 385
(Release ID 44385)


  विज्ञप्ति को कुर्तिदेव फोंट में परिवर्तित करने के लिए यहां क्लिक करें
डिज़ाइन एवं होस्‍ट राष्‍ट्रीय सूचना केंद्र (एनआईसी),सूचना उपलब्‍ध एवं अद्यतन की गई पत्र सूचना कार्यालय
ए खण्‍ड शास्‍त्री भवन, डॉ- राजेंद्र प्रसाद रोड़, नई दिल्‍ली- 110 001 फ़ोन 23389338