विज्ञप्तियां उर्दू विज्ञप्तियां फोटो निमंत्रण लेख प्रत्यायन फीडबैक विज्ञप्तियां मंगाएं Search उन्नत खोज
RSS RSS
Quick Search
home Home
Releases Urdu Releases Photos Invitations Features Accreditation Feedback Subscribe Releases Advance Search
हिंदी विज्ञप्तियां
तिथि माह वर्ष
  • राष्ट्रपति सचिवालय
  • तीन देशों के राजनयिकों ने राष्‍ट्रपति को परिचय पत्र सौंपे  
  • उप राष्ट्रपति सचिवालय
  • उपराष्ट्रपति ने ओंगोल नस्ल की गाय को संरक्षित करने का आह्वान किया  
  • पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय
  • वन्‍य जीवों के गैर-कानूनी व्‍यापार के प्रति जागरूकता पैदा करने के लिए ‘सभी जानवर इच्‍छा से पलायन नहीं करते’ अभियान की शुरूआत  
  • विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्रालय
  • किलोग्राम, केल्विन, मोल और एंपियर जैसी मापक इकाइयों की दुनिया को मिली नई परिभाषा  
  • वित्त मंत्रालय
  • स्टॉक्स की बिक्री (पुनः जारी) के लिए नीलामी  
  • सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय
  • वयोश्रेष्‍ठ सम्‍मान नामांकन- वरिष्‍ठ नागरिक राष्‍ट्रीय पुरस्‍कार 2019 के लिए व्‍यक्‍तियों और संस्‍थाओं द्वारा नामांकन की अंतिम तारीख 31 मई 2019  

 
रक्षा मंत्रालय28-मार्च, 2016 12:03 IST

आईएनएस ब्यास अंतरराष्ट्रीय समुद्री रक्षा प्रदर्शनी (डीआईएमडीईएक्स) के लिए दोहा की यात्रा पर

भारतीय नौपोत ब्यास, आज से 2 अप्रैल, 2016 तक चलने दोहा, कतर में आयोजित हो रहे पंद्रहवें दोहा अंतरराष्ट्रीय समुद्री रक्षा प्रदर्शनी (डीआईएमडीईएक्स) में हिस्सा लेने के लिए आधिकारिक यात्रा पर है। डीआईएमडीईएक्स हर दो साल में दोहा में आयोजित किया जाता है जिसमें स्वदेशी पोतनिर्माण क्षमताओं व तकनीकों व नवीनतम नौ प्रणालियों को प्रदर्शित करने का आदर्श मंच प्रदान किया जाता है। आईएनएस ब्यास स्वदेशी ब्रह्मपुत्र श्रेणी का युद्धपोत है जिसे 11 जुलाई 2005 से शामिल किया गया है। यह डीआईएमडीईएक्स 16 में भारतीय नौसेना का प्रतिनिधित्व कर रहा है। हमारे रक्षा पोत कारखाना (डीपीएसयू), मेसर्स गार्डेन रिच शिपबिल्डर्स एंड इंजीनियर्स लिमिटेड द्वारा कोलकाता में तैयार यह आधुनिक एंटी-सबमरीन युद्धक्षमता से लैस युद्धपोत है, जिसमें आधुनिकतम तकनीकों से लैस हथियार व संवेदक लगे हैं। युद्धपोत में सतह, हवा व मिसाइलों को मार गिराने की क्षमता के साथ-साथ एंटी-सबमरीन की भी शक्ति है।

यात्रा के दौरान पोत पर कतर की नौसेना के साथ पेशेवर परस्पर संवाद होंगे। इस यात्रा के दौरान वहां आए अन्य प्रतिभागी देशों के युद्धपोतों से भी परिचित होने का अवसर मिलेगा। परस्पर संवाद से समझौतों को मजबूत करने, आपसी समझदारी बढ़ाने, दोस्ती का पुल स्थापित करने का मौका मिलेगा। पोत को कैप्टन दीपक भाटिया द्वारा निर्देशित किया जा रहा है जो नौपरिवहन व संचालन के विशेषज्ञ हैं।

इस दौरान फ्लैग ऑफिसर कमांडिंग इन चीफ वेस्टर्न नेवल कमांड, वाइस एडमिरल सुनील लांबा, पीवीएसएम, एवीएसएम, एडीसी भी दोहा का दौरा करेंगे और मध्यपूर्व के नौसेना कमांडरों के कॉन्फ्रेंस को संबोधित करेंगे।

वीपी-1683
(Release ID 46860)


  विज्ञप्ति को कुर्तिदेव फोंट में परिवर्तित करने के लिए यहां क्लिक करें
डिज़ाइन एवं होस्‍ट राष्‍ट्रीय सूचना केंद्र (एनआईसी),सूचना उपलब्‍ध एवं अद्यतन की गई पत्र सूचना कार्यालय
ए खण्‍ड शास्‍त्री भवन, डॉ- राजेंद्र प्रसाद रोड़, नई दिल्‍ली- 110 001 फ़ोन 23389338