विज्ञप्तियां उर्दू विज्ञप्तियां फोटो निमंत्रण लेख प्रत्यायन फीडबैक विज्ञप्तियां मंगाएं Search उन्नत खोज
RSS RSS
Quick Search
home Home
Releases Urdu Releases Photos Invitations Features Accreditation Feedback Subscribe Releases Advance Search
हिंदी विज्ञप्तियां
तिथि माह वर्ष
  • रेल मंत्रालय
  • भारतीय रेलवे का पैरा मेडिकल स्‍टाफ के लिए सबसे बड़ा भर्ती अभियान  
  • वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय
  • भारत-ब्रिटेन संयुक्त आर्थिक एवं व्यापार समिति की 13वीं बैठक का संयुक्त वक्तव्य  
  • उत्तर भारतीय आम के निर्यात को बढावा देने समुद्री मार्ग द्वारा पहली खेप लखनऊ से इटली भेजी गई  

 
गृह मंत्रालय08-जुलाई, 2016 20:31 IST

ब्रिक्‍स की मादक द्रव्‍य नियंत्रण एजेंसियों के प्रमुखों के मादक द्रव्‍य रोधी कार्य समूह की दूसरी बैठक संपन्‍न

श्ष्टिमंडलों ने अवैध मादक द्रव्‍य तस्‍करी की रोकथाम करने एवं उनका मुकाबला करने के लिए क्षमता निर्माण में बढोतरी करने का संकल्‍प किया

श्ष्टिमंडलों ने अवैध मादक द्रव्‍य तस्‍करी की रोकथाम करने एवं उनका मुकाबला करने के लिए क्षमता निर्माण में बढोतरी करने का संकल्‍प किया                      

    

  

गृह मंत्रालय के नारकोटिक्‍स नियंत्रण ब्‍यूरो ने आज ब्रिक्‍स देशों की मादक द्रव्‍य नियंत्रण एजेंसियों के प्रमुखों के मादक द्रव्‍य रोधी कार्य समूह की दूसरी बैठक का आयोजन किया। इस बैठक का उद्घाटन केंद्रीय गृह मंत्री श्री राजनाथ सिंह ने आज ही इससे पूर्व किया था। इस बैठक का महत्‍व इस बात से बढ़ जाता है कि भारत अक्‍टूबर, 2016 में गोवा में आठवें ब्रिक्‍स सम्‍मेलन की मेजबानी करेगा। सातवें ब्रिक्‍स सम्‍मेलन का आयोजन जुलाई 2015 में रूस में किया गया था।

ई-थेकवानी घोषणापत्रकी भावना के अनुरूप, ब्रिक्‍स देशों की मादक द्रव्‍य रोधी कार्यसमूह की प्रथम बैठक नवंबर, 2015 में रूस के मास्‍को में आयोजित की गई थी।

मादक द्रव्‍य (नारकोटिक्‍स) नियंत्रण ब्‍यूरो (एनसीबी) द्वारा आज यहां आयोजित बैठक मादक द्रव्‍य नियंत्रण एजेंसियों के प्रमुखों की दूसरी बैठक थी।

सदस्‍य देशों के  शिष्‍टमंडलों के अतिरिक्‍त वित्‍त मंत्रालय के राजस्‍व विभाग, सामाजिक न्‍याय एवं अधिकारिता मंत्रालय, स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण मंत्रालय तथा गृह मंत्रालय के नारकोटिक्‍स नियंत्रण ब्‍यूरो के अधिकारियों तथा सीमा चौकसी बलों एवं अर्ध सैन्‍य बलों के महानिदेशकों ने उद्घाटन सत्र में भाग लिया।

केंद्रीय गृह मंत्री श्री राजनाथ सिंह ने अपने संबोधन में प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी द्वारा ब्रिक्‍स को दिए गए महत्‍व को रेखांकित किया। केंद्रीय गृह मंत्री ने जोर देकर कहा कि भारत ब्रिक्‍स को तेजी से विकसित हो रही अर्थव्‍यवस्‍थाओं के एक संगठन के रूप में काफी महत्‍व देता है। यह वक्‍त की आवश्‍यकता थी कि ब्रिक्‍स ने नारकोटिक्‍स की तस्‍करी एवं नारको आतंकवाद के मंडराते खतरे से संबंधित मुद्वों को कवर करने एवं विचार विमर्श करने के अपने अधिदेश को विस्‍तारित किया।

एनसीबी के महानिदेशक श्री राजीव राय भटनागर ने अपने भाषण में मादक द्रव्‍य व्‍यापार में प्रवाहित होते अवैध फंड के सृजन के तथ्‍य को रेखांकित किया जो राष्‍ट्र विरोधी गतिविधियों एवं नारको आतंकवाद के लिए वित्‍त पोषण के स्रोत थे। उन्‍होंने जोर देकर कहा कि इस फंड के प्रवाह को अवरूद्ध करने की आवश्‍यकता है।

पांच ब्रिक्‍स देशों ब्राजील, रूस, भारत, चीन एवं दक्षिण अफ्रीका के शिष्‍टमंडलों ने विचार विमर्श में भाग लिया जिनकी शुरूआत उद्घाटन के बाद हुई। इस बैठक की अध्‍यक्षता एनसीबी के महानिदेशक श्री राजीव राय भटनागर ने की जो भारतीय शिष्‍टमंडल का नेतृत्‍व कर रहे थे।

बैठक के दौरान, भागीदारों ने दक्षिण पश्चिम एशिया एवं दक्षिण पूर्व एशिया में अफीम एवं हेरोइन की अवैध खेती एवं उत्‍पादन तथा दक्षिण अमेरिका में कोका बुश की अवैध खेती समेत मादक द्रव्‍य की तस्‍करी की स्थिति पर चर्चा की। इसके अतिरिक्‍त, नारकोटिक दवाओं एवं साइकोट्रॉपिक तत्‍वों के उत्‍पादन के लिए उपयोग में लाए जाने वाले कैनेबिस पौधे की अवैध खेती, पूर्ववर्ती रसायनों का विलगन एवं तस्‍करी, द्रव्‍य उत्‍पादों से अवैध वित्‍तीय प्रवाह, कुछ विशेष मामलों में आतंकवाद का वित्‍त पोषण, समुद्री रास्‍ते से मादक द्रव्‍यों की तस्‍करी एवं नई मनो-सक्रिय तत्‍वों का उद्भव जिसने दुनिया भर में समाजों, विशेष रूप से, युवाओं के स्‍वास्‍थ्‍य, सुरक्षा एवं खुशहाली के लिए बड़ा खतरा पैदा कर दिया है और जो ब्रिक्‍स के सदस्‍य देशों की आर्थिक, सामाजिक एवं राजनीतिक स्थिरता और विकास को भी कमतर करता है, पर भी चर्चा की गई।

 शिष्‍टमंडलों ने मादक द्रव्‍यों की तस्‍करी के वर्तमान रूझानों एवं रास्‍तों की निगरानी करने, मादक द्रव्‍य कानून प्रवर्तन एजेंसियों के बीच सूचनाओं एवं अनुभवों, सर्वश्रेष्‍ठ  प्रचलनों को साझा करने तथा क्षमता निर्माण को बढाने के लिए जिससे कि मादक द्रव्‍यों की अवैध तस्‍करी एवं संबंधित अपराधों को रोकने एवं उनका मुकाबला किया जा सके, सदस्‍य देशों के बीच सहयोग एवं गठबंधन विकसित करने एवं उन्‍हें मजबूत बनाने के प्रति भी संकल्‍प किया।

 

                                        ***

एसकेजे /-3368

 

     

(Release ID 52868)


  विज्ञप्ति को कुर्तिदेव फोंट में परिवर्तित करने के लिए यहां क्लिक करें
डिज़ाइन एवं होस्‍ट राष्‍ट्रीय सूचना केंद्र (एनआईसी),सूचना उपलब्‍ध एवं अद्यतन की गई पत्र सूचना कार्यालय
ए खण्‍ड शास्‍त्री भवन, डॉ- राजेंद्र प्रसाद रोड़, नई दिल्‍ली- 110 001 फ़ोन 23389338