विज्ञप्तियां उर्दू विज्ञप्तियां फोटो निमंत्रण लेख प्रत्यायन फीडबैक विज्ञप्तियां मंगाएं Search उन्नत खोज
RSS RSS
Quick Search
home Home
Releases Urdu Releases Photos Invitations Features Accreditation Feedback Subscribe Releases Advance Search
हिंदी विज्ञप्तियां
तिथि माह वर्ष
  • राष्ट्रपति सचिवालय
  • राष्‍ट्रपति ने प्रोफेसर पी सी महालनोबिस के 125वें जन्‍मोत्‍सव में हिस्‍सा लिया  
  • कांगो के राष्ट्रीय दिवस की पूर्व संध्या पर राष्ट्रपति का संदेश   
  • अंतरिक्ष विभाग
  • भारत के संचार उपग्रह जीसेट-17 का सफलतापूर्वक प्रक्षेपण   
  • अल्‍पसंख्‍यक कार्य मंत्रालय
  • श्री मुख्तार अब्बास नकवी ने सेंट्रल वक्फ कौंसिल की 76वी बैठक को संबोधित किया   
  • उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय, खाद्य और सार्वजनिक वितरण
  • श्री राम विलास पासवान ने लीगल मेट्रोलॉजी (पैकेज्‍ड कमोडिटीज) नियम, 2011 में संशोधन को मंजूरी दी   
  • कानून एवं न्याय मंत्रालय
  • जेल बंदियों को कानूनी सेवाएं देने के लिए वेब एप्लीकेशन लांच   
  • कार्मिक मंत्रालय, लोक शिकायत और पेंशन
  • एसीसी नियुक्ति  
  • गृह मंत्रालय
  • भूकंप की तैयारियों की जांच के लिए एनडीएमए कल दिल्‍ली में मॉक अभ्‍यास करेगा       
  • कर्नाटक को केंद्रीय मदद प्रदान करने के लिए गृहमंत्री ने उच्‍च स्‍तरीय समिति की बैठक की अध्‍यक्षता की   
  • केंद्रीय गृह मंत्री श्री राजनाथ सिंह ने कर्नाटक को केंद्रीय सहायता पर उच्च स्तरीय समिति की बैठक की अध्यक्षता की  
  • चुनाव आयोग
  • उपराष्ट्रपति पद का चुनाव, (उपराष्ट्रपति पद का 15वां चुनाव)   
  • अरुणाचल प्रदेश और नागालैंड विधानसभा की खाली सीटों पर कराए जाने वाले उप-चुनावों का कार्यक्रम   
  • जल संसाधन मंत्रालय
  • देश के 91 प्रमुख जलाशयों का जलस्तर उनकी संग्रहण क्षमता का 19 प्रतिशत   
  • पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय
  • भारतीय बास्केट के कच्चे तेल की अंतर्राष्ट्रीय कीमत 28.06.2017 को 45.64 अमेरिकी डॉलर प्रति बैरल रही   
  • युवा मामले और खेल मंत्रालय
  • सरकार खेलों के विकास के लिए एक स्‍वस्‍थ माहौल प्रदान करने के लिए कठिन डोपिंग रोधक उपायों को अपनाने के लिए प्रतिबद्ध है: विजय गोयल  
  • खेल विभाग द्वारा नियुक्‍त राष्‍ट्रीय पर्यवेक्षकों की भूमिका  
  • रेल मंत्रालय
  • रेल मंत्री श्री सुरेश प्रभाकर प्रभु ने काजीगुंड-बारामूला के बीच पांच नये हॉल्ट स्टेशनों की आधारशिला रखी   
  • वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय
  • सितंबर 2017 में विदेश व्‍यापार नीति की मध्‍यावधि समीक्षा जारी   
  • डीजीएफटी की निर्यात प्रोत्साहन योजनाओं पर एमआईएस रिपोर्ट  
  • वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री ने एशियाई विकास बैंक के अध्‍यक्ष के साथ बुनियादी ढांचे के विकास के बारे में विचार-विमर्श किया   
  • विद्युत मंत्रालय
  • सऊदी अरब साम्राज्य ऊर्जा दक्षता कार्यक्रम लागू करेगा, ईईएसएल के साथ समझौता किया  
  • भारत इलेक्ट्रिक ग्रिड में 175 गीगावाट नवीकरणीय ऊर्जा एकीकृत कर सकता है : अध्ययन  
  • शिपिंग मंत्रालय
  • राष्ट्रीय साइबर सुरक्षा समन्वयक ने जवाहरलाल नेहरू पोर्ट ट्रस्‍ट का दौरा किया और इस पोर्ट के एक ट्रर्मिनल के परिचालनों को बाधित करने वाले साइबर हमले के प्रभाव का आकलन किया   
  • संस्कृति मंत्रालय
  • साहित्‍य अकादमी ने युवा पुरस्‍कार 2018 के लिए भारतीय युवा लेखकों और प्रकाशकों से पुस्‍तकें आमंत्रित की  
  • सांख्यिकी एवं कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय
  • 11वां सांख्यिकी दिवस मनाया गया  
  • भारत में असमाविष्ट गैर-कृषि उद्यमों (निर्माण को छोड़कर) के मुख्य संकेतकों के संबंध में प्रेस नोट (जुलाई 2015-जून 2016)   

 
कार्मिक मंत्रालय, लोक शिकायत और पेंशन10-जनवरी, 2017 20:44 IST

विशाखापत्तनम में ई-गवर्नेंस पर दो दिवसीय 20वें राष्ट्रीय सम्मेलन का समापन

साइबर सुरक्षा समय की मांग है : श्री पी. पी. चौधरी

           

विशाखापत्तनम में आज ई-गवर्नेंस पर दो दिवसीय राष्ट्रीय सम्मेलन का समापन हो गया। केंद्रीय इलेक्ट्रानिक और सूचना प्रौद्योगिकी एवं विधि और न्याय राज्य मंत्री श्री पी. पी. चौधरी ने ई-गवर्नेंस पर 20 राष्ट्रीय सम्मेलन के समापन सत्र की अध्यक्षता की।

 

इस अवसर पर अपने संबोधन में श्री पी. पी. चौधरी ने कहा कि शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों के बीच डिजिटल अंतर को समाप्त करने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार भारतीयों के द्वारा अनुसंधान और विकास एवं सूचना प्रौद्योगिकी की अभिनव पारिस्थितिकी - प्रणाली एवं बौद्धिक संपदा अधिकारों के अधिग्रहण को प्रोत्साहन देती है।

 

मंत्री महोदय ने कहा कि साइबर सुरक्षा समय की जरूरत है और कृत्रिम बुद्धिमत्ता माध्यम से साइबर सुरक्षा की समस्या के लिए समाधान उपलब्ध कराए जायेंगे। उन्होंने कहा कि नैनो

इलेक्ट्रानिक्स माध्यम पर आधारित शिक्षा को प्राप्त करने के लिए नैनो प्रौद्योगिकी के विकास की भी आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि भारत जल्द ही देश में इलेक्ट्रानिक उपकरणों और उत्पादों के विनिर्माण में एक शानदार स्थिति में होगा।

 

इस अवसर पर आन्ध्र प्रदेश के सूचना और जनसंपर्क, सूचना प्रौद्योगिकी और संचार मंत्री श्री पल्ले रघुनाथ रेड्डी, लोकसभा सांसद डॉ. कम्भमपति, प्रशासनिक सुधार और लोक शिकायत विभाग के सचिव श्री हरीबाबू, डीएआरपीजी के अपर सचिव श्री सी. विश्वनाथ के अलावा श्रीमति ऊषा शर्मा और विभिन्न राज्यों/ संघ शासित प्रदेशों एवं गैर सरकारी संगठनों के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

 

इस अवसर पर श्री पी. पी. चौधरी ने वर्ष 2016-17 के लिए ई-गवर्नेंस पर राष्ट्रीय पुरस्कार प्रदान किए।

 

पुरस्कार प्राप्तकर्ताओं की सूची

***

वीके/एसएस/सीएस-96

 

(Release ID 58015)


  विज्ञप्ति को कुर्तिदेव फोंट में परिवर्तित करने के लिए यहां क्लिक करें
डिज़ाइन एवं होस्‍ट राष्‍ट्रीय सूचना केंद्र (एनआईसी),सूचना उपलब्‍ध एवं अद्यतन की गई पत्र सूचना कार्यालय
ए खण्‍ड शास्‍त्री भवन, डॉ- राजेंद्र प्रसाद रोड़, नई दिल्‍ली- 110 001 फ़ोन 23389338