विज्ञप्तियां उर्दू विज्ञप्तियां फोटो निमंत्रण लेख प्रत्यायन फीडबैक विज्ञप्तियां मंगाएं Search उन्नत खोज
RSS RSS
Quick Search
home Home
Releases Urdu Releases Photos Invitations Features Accreditation Feedback Subscribe Releases Advance Search
हिंदी विज्ञप्तियां
तिथि माह वर्ष
  • कार्मिक मंत्रालय, लोक शिकायत और पेंशन
  • जून के अंत तक 25 मंत्रालय/ वि‍भाग ई-ऑफिस में बदल जाएंगे : डॉ. जितेन्‍द्र सिंह   
  • खान मंत्रालय
  • विद्युत, कोयला, नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा और खान राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री पीयूष गोयल ने भूविज्ञान सलाहकार परिषद की पांचवीं बैठक की अध्‍यक्षता की  
  • गृह मंत्रालय
  • केन्‍द्रीय गृह सचिव श्री राजीव महर्षि ने आईटीबीपी के पर्वत धौलागिरी-। अभियान के सदस्‍यों की अगवानी की   
  • पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय
  • भारतीय बास्केट के कच्चे तेल की अंतर्राष्ट्रीय कीमत 26.06.2017 को 44.28* अमेरिकी डॉलर प्रति बैरल रही  
  • पर्यावरण एवं वन मंत्रालय
  • सूचना प्रौद्योगिकी को प्रदूषण नियंत्रण व्यवस्था में शामिल किया जाना चाहिए, इस प्रणाली से भ्रष्टाचार का प्रदूषण साफ करने की जरूरत है : डॉ. हर्षवर्धन   
  • युवा मामले और खेल मंत्रालय
  • केन्द्रीय खेल मंत्री श्री विजय गोयल की दो दिवसीय मिजोरम यात्रा का समापन   
  • रेल मंत्रालय
  • रेल मंत्री श्री सुरेश प्रभाकर प्रभु ने बिलासपुर-मनाली-लेह की नई बड़ी लाइन के लिए अंतिम स्‍थान सर्वे की आधारशिला रखी  
  • वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय
  • भारत-म्‍यांमार संयुक्‍त व्‍यापार समिति की छठी बैठक आयोजित   
  • शहरी विकास मंत्रालय
  • शहरी विकास मंत्रालय ने डीयूएसआईबी तथा दिल्‍ली के तीन नगर-निगमों से स्‍वच्‍छ कार्य योजना की मांग की   
  • शिपिंग मंत्रालय
  • क्रूज पर्यटन भारत की अर्थव्यवस्था को विकास प्रदान करेगा- श्री नितिन गडकरी   
  • सूक्ष्म, लघु और मझौले उद्यम मंत्रालय
  • श्री कलराज मिश्र ने राष्‍ट्रीय एमएसएमई पुरस्‍कार 2015 प्रदान किये   
  • सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय
  • प्रधानमंत्री 29 जून, 2017 को राजकोट सामाजिक अधिकारिता शिविर में सबसे अधिक संख्‍या में दिव्‍यांगजनों को सम्‍मानित करेंगे   

 
कार्मिक मंत्रालय, लोक शिकायत और पेंशन19-मई, 2017 19:07 IST

सीआईसी ने आरटीआई अधिनियम के कार्यान्वयन पर संगोष्ठी का आयोजन किया

 केन्द्रीय सूचना आयोग ने सूचना का अधिकार अधिनियम 2005 के कार्यान्वयन को लेकर आज एक संगोष्ठी का आयोजन किया। इस संगोष्ठी में मुख्य सूचना आयुक्त, सूचना आयुक्त, पूर्व मुख्य सूचना आयुक्त, राज्य सूचना आयुक्त, गैर सरकारी संगठनों के प्रतिनिधि और अन्य हितधारक शामिल हुए। संगोष्ठी का शुभारंभ केन्द्रीय सूचना आयोग के मुख्य सूचना आयुक्त श्री राधा कृष्ण माथुर के सम्बोधन के साथ हुआ। श्री माथुर ने पिछले कुछ सालों के दौरान केन्द्रीय सूचना आयोग में लंबित मामलों को निपटाने के लिए विभाग द्वारा किए गए प्रयासों पर प्रकाश डाला और आयोग में डिजिटाइजेशन को बढ़ावा देने और उसका सदुपयोग करने की दिशा में कार्य करने के बारे में भी बताया।

सूचना आयुक्त प्रो. एम. श्रीधर आचार्युलु ने अपने सम्बोधन में गिरीश आर देशपांडे व अन्य मामलों का उदाहरण देते हुए सार्वजनिक कर्मियों की गोपनीयता के दायरे पर विस्तार से चर्चा की। कॉमनवेल्थ ह्युमन राइट्स इनिशिएटिव (सीएचआरआई) के निदेशक श्री संजय हज़ारिका ने ‘अधिक प्रोफेशनल पत्रकारिता के एक हथियार के तौर पर आरटीआई’ से जुड़े विषयों पर विस्तार से प्रकाश डाला। सुश्री अंजलि ने आरटीआई कानून से जुड़े विभिन्न फैसलों के बारे में जानकारी दी। सुश्री अमृता जोहरी ने ‘आरटीआई अधिनियम के कार्यान्वयन पर राष्ट्रीय आकलन’ विषय पर संबोधित किया। आरटीआई कार्यकर्ता श्री एस. सी. अग्रवाल ने अपने आवेदकों द्वारा किए जाने वाले आरटीआई अधिनियम के दुरुपयोग के बारे में अनुभव के आधार पर विस्तार से जानकारी दी। सीएचआरआई के श्री वेंकटेश नायक ने आरटीआई न्यायशास्त्र में कुछ विरोधात्मक घटनाओं पर प्रकाश डाला। महिति अधिकार गुजरात पहल की सुश्री पंक्ति जोग ने आरटीआई के जरिए दूर-दराज के इलाकों में रहने वाले लोगों की शासन प्रक्रिया में भागीदारी बढ़ाने के लिए उठाए गए कदमों से जुड़े विषयों पर प्रकाश डाला।

श्री बी. एच. वीरेश ने कर्नाटक में टिकट और पंजीकरण विभाग में आरटीआई अधिनियम के कार्यान्वयन के लिए महिथि हक्कु अध्ययन केन्द्र द्वारा किए गए प्रयासों के बारे में संगोष्ठी में मौजूद लोगों को बताया। यूपी स्टेट रिसॉर्स पर्सन (आरटीआई) के श्री राजेश मेहतानी ने उत्तर प्रदेश में आरटीआई अधिनियम के कार्यान्वयन में हुए विकास पर प्रकाश डाला। बीएसएनएल के श्री दीपक सिंह ने आरटीआई अधिनियम की धारा – 24 में संशोधन के मुद्दे के बारे में विस्तार से बताया। वाईएएसएचएडीए की एसोसिएट प्रोफेसर सुश्री दीपा सादेकर देशपांडे ने महाराष्ट्र में आरटीआई अधिनियम से जुड़ी कुछ सफलतम घटनाओं एवं कहानियों पर प्रकाश डाला।

संगोष्ठी का समापन सूचना आयुक्त श्री यशोवर्धन आज़ाद के संबोधन के साथ हुआ।

***


वीके/प्रवीन/वाईबी- 1416

 

(Release ID 61060)


  विज्ञप्ति को कुर्तिदेव फोंट में परिवर्तित करने के लिए यहां क्लिक करें
डिज़ाइन एवं होस्‍ट राष्‍ट्रीय सूचना केंद्र (एनआईसी),सूचना उपलब्‍ध एवं अद्यतन की गई पत्र सूचना कार्यालय
ए खण्‍ड शास्‍त्री भवन, डॉ- राजेंद्र प्रसाद रोड़, नई दिल्‍ली- 110 001 फ़ोन 23389338