विज्ञप्तियां उर्दू विज्ञप्तियां फोटो निमंत्रण लेख प्रत्यायन फीडबैक विज्ञप्तियां मंगाएं Search उन्नत खोज
RSS RSS
Quick Search
home Home
Releases Urdu Releases Photos Invitations Features Accreditation Feedback Subscribe Releases Advance Search
हिंदी विज्ञप्तियां
तिथि माह वर्ष
  • राष्ट्रपति सचिवालय
  • राष्ट्रपति ने एथेंस में विदेश नीति थिंकटैंक को संबोधित किया   
  • प्रधानमंत्री कार्यालय
  • प्रधानमंत्री कल देशभर के किसानों के साथ सीधा संवाद करेंगे  
  • कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय
  • श्री राधा मोहन सिंह ने नेपाल के कृषि क्षेत्र में भारत की ओर से और अधिक सहायता दिए जाने का आश्‍वासन दिया  
  • खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय
  • ‘निफ्टम’ में खाद्य प्रसंस्‍करण क्षेत्र का हार्वर्ड बनने की क्षमता है : श्रीमती हरसिमरत कौर बादल  
  • जल संसाधन मंत्रालय
  • श्री नितिन गडकरी ताजिकिस्तान में ‘कार्रवाई के लिए अंतर्राष्ट्रीय दशक: सतत विकास के लिए जल 2018-2028’ विषय पर सम्मेलन में भाग लेंगे     
  • नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय
  • पवन उद्योग का भरोसा बढ़ाने हेतु सरकार ने अपतटीय पवन ऊर्जा के लिए राष्‍ट्रीय लक्ष्‍य घोषित किए  
  • नीति आयोग
  • कृषि एवं मनरेगा से संबंधित नीतिगत दृष्टिकोणों में समन्‍वय स्‍थापित करने के लिए मुख्‍यमंत्रियों का उप-समूह गठित  
  • मानव संसाधन विकास मंत्रालय
  • भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान-बनारस हिंदू विश्वविद्यालय (आईआईटी-बीएचयू) अब आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और मशीन लर्निंग कौशल के साथ भविष्य की चुनौतियों के लिए तैयार  
  • मानव संसाधन विकास मंत्री ने राष्‍ट्रीय डिजिटल लाइब्रेरी राष्‍ट्र को समर्पित की  
  • रक्षा मंत्रालय
  • साइबर सुरक्षा फ्रेमवर्क पर कार्यशाला - 2018  
  • संस्कृति मंत्रालय
  • ‘धरोहर गोद लें’ योजना के तहत 3 सहमति पत्रों पर हस्ताक्षर हुए हैं और 6 अग्रिम चरण में हैं- संस्कृति मंत्रालय  
  • सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय
  • एनसीएसके के अध्‍यक्ष ने सफाई कर्मचारियों के विभिन्‍न मुद्दों पर एनडीएमसी के चेयरमैन से चर्चा की  

 
मंत्रिमंडल10-नवंबर, 2017 19:10 IST

मंत्रिमंडल ने भारत गणराज्‍य और दि रिपब्लिक ऑफ कोलंबिया के बीच निवेश के संवर्द्धन और संरक्षण के लिए 10 नवंबर, 2009 को हस्‍ताक्षर किए गए करार के संबंध में भारत और कोलंबिया के बीच संयुक्‍त निर्वचनात्‍मक घोषणा को मंजूरी दी

प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी की अध्‍यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने ‘दि रिपब्लिक ऑफ कोलंबिया और भारत गणराज्‍य के बीच निवेश के संवर्द्धन और संरक्षण के लिए मौजूदा करार (बीपा), 10 नवंबर, 2009 को हस्‍ताक्षरित, के संबंध में भारत और कोलंबिया के बीच संयुक्‍त निर्वचनात्‍मक घोषणा (जेआईडी) पर हस्‍ताक्षर करने के लिए अपनी मंजूरी प्रदान कर दी है।

यह संयुक्‍त निर्वचनात्‍मक घोषणा और भारत और कोलंबिया के बीच निवेशों के संवर्धन और संरक्षण संबंधी मौजूदा करार (बीपा) के निर्वचन में स्‍पष्‍टता प्रदान करेगी। इस संयुक्‍त निर्वचनात्‍मक घोषणा में निवेशक की परिभाषा, निवेश की परिभाषा, उचित और साम्‍यतापूर्ण व्‍यवहार (एफईटी), राष्‍ट्रीय व्‍यवहार (एनटी), और सर्वाधिक अनुकूल राष्‍ट्र (एमएफएन) के व्‍यवहार, स्‍वामित्‍वहरण, निवेशक-राज्‍य विवाद समाधान प्रावधान और लाभों से इंकार किए जाने सहित अनेक खंडों के लिए संयुक्‍त रूप से अंगीकृत किए जाने वाले निर्वचनात्‍मक टिप्‍पण शामिल हैं।

संयुक्‍त निर्वचनात्‍मक घोषणा/विवरण सामान्‍यतया निवेश संधि व्‍यवस्‍था के सुदृढ़ीकरण में एक महत्‍वपूर्ण अनुपूरक भूमिका अदा करते हैं। बढ़ रहे द्विपक्षीय निवेश संधि (बीआईटी) विवादों, ऐसे विवरणों के जारी करने से माध्‍यस्‍थम अधिकरणों के समक्ष इनका प्रेरक महत्‍व और भी अधिक बढ़ने की संभावना है। राज्‍यों द्वारा ऐसे सकारात्‍मक दृष्टिकोण से माध्‍यस्‍थम अधिकरणों द्वारा संधि की शर्तों के और अधिक संभावित तथा संगत पठन को बढ़ावा मिल सकता है।

******


अतुल तिवारी/शाहबाज़ हसीबी/बाल्‍मीकि महतो/सुरेन्‍द्र कुमार/हेमा
(Release ID 69119)


  विज्ञप्ति को कुर्तिदेव फोंट में परिवर्तित करने के लिए यहां क्लिक करें
डिज़ाइन एवं होस्‍ट राष्‍ट्रीय सूचना केंद्र (एनआईसी),सूचना उपलब्‍ध एवं अद्यतन की गई पत्र सूचना कार्यालय
ए खण्‍ड शास्‍त्री भवन, डॉ- राजेंद्र प्रसाद रोड़, नई दिल्‍ली- 110 001 फ़ोन 23389338