• Skip to Content
  • Sitemap
  • Advance Search
विज्ञप्तियां
माह वर्ष
  • केन्द्रीय मंत्री श्रीमती हरसिमरत कौर बादल ने आंध्र प्रदेश में पहले एक्वा मेगा फूड पार्क की शुरूआत की (12-फरवरी,2019)
  • केन्द्रीय मंत्री श्रीमती हरसिमरत कौर बादल ने हिमाचल प्रदेश के सबसे पहले मेगा फूड पार्क – क्रेमिका फूड पार्क का उद्घाटन किया (10-फरवरी,2019)
  • केंद्रीय मंत्री श्रीमती हरसिमरत कौर बादल ने उत्तर प्रदेश के मथुरा जिले में मेगा फूड पार्क की आधारशिला रखी (09-फरवरी,2019)
  • मंत्रिमंडल ने संसद में राष्ट्रीाय खाद्य प्रौद्योगिकी, उद्यमिता एवं प्रबंधन संस्थारन विधेयक, 2019 को पेश किये जाने की मंजूरी दी (06-फरवरी,2019)
 
खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय

केन्द्रीय मंत्री श्रीमती हरसिमरत कौर बादल ने आंध्र प्रदेश में पहले एक्वा मेगा फूड पार्क की शुरूआत की

केन्द्रीय मंत्री श्रीमती हरसिमरत कौर बादल ने आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए आंध्र प्रदेश के पश्चिम गोदावरी जिले के भीमावरम मंडल में स्थित टुंडुरू गांव में गोदावरी मेगा एक्वा फूड पार्क की शुरूआत की। इस फूड पार्क को मैसर्स गोदावरी मेगा एक्वा फूड पार्क प्राइवेट लिमिटेड विकसित कर रहा है। यह आंध्र प्रदेश में स्थित पहला मेगा एक्वा फूड पार्क है, जो मछली और समुद्री उत्पादों के प्रसंस्करण के लिए स्थापित किया गया है।

खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय की सचिव श्रीमती पुष्पा सुब्रमण्यम ने श्री हरसिमरत कौर बादल की उपस्थिति में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए फूड पार्क की शुरूआत की।

मंत्रालय द्वारा आंध्र प्रदेश के चित्तूर जिले में मंजूर किए गए मेगा फूड पार्क का उद्घाटन 9 जुलाई, 2012 को हुआ था। मंत्रालय द्वारा स्वीकृत तीसरे मेगा फूड पार्क कृष्णा जिले में स्थित है और यह निर्माण की प्रक्रिया में है।

मैसर्स गोदावरी मेगा एक्वा फूड पार्क प्राइवेट लिमिटेड को 122.60 करोड़ रुपये की लागत से 57.81 एकड़ के भूखंड में निर्मित किया गया है। इस फूड पार्क में निम्न सुविधाएं हैं- मछली के लिए पूर्व प्रसंस्करण सुविधा – 1.5 टीपीएच, झींगा के लिए पूर्व प्रसंस्करण सुविधा – 1.5 टीपीएच, मछली की प्रशीतन सुविधा – 1.5 टीपीएच, झींगा की प्रशीतन सुविधा – 1.5 टीपीएच, मछली के लिए कोल्ड स्टोरेज – 2000 एमटी, झींगा के लिए कोल्ड स्टोरेज – 1000 एमटी, बर्फ संयंत्र, फूड जांच प्रयोगशाला आदि।

इस पार्क में एक सामान्य प्रशासनिक भवन है। इसका उपयोग अधिकारी व उद्यमी कर सकते हैं। प्राथमिक प्रसंस्करण के लिए पूर्व गोदावरी जिले के अमालापुरम और गुंटूर जिले के करलापलेम में दो पीपीसी लगाए गए हैं। फार्म के निकट भंडारण सुविधा से किसानों को लाभ मिलेगा। इस मेगा फूड पार्क से पश्चिम गोदावरी जिले के साथ-साथ पूर्व गोदावरी और कृष्णा तथा तेलंगाना के पड़ोसी जिलों के लोगों को लाभ मिलेगा।

इस आधुनिक ढांचागत सुविधा से किसानों, उत्पादकों, प्रसंस्करण कर्मियों और उपभोक्ताओं को लाभ मिलेगा। आंध्र प्रदेश में खाद्य प्रसंस्करण क्षेत्र को बढ़ावा मिलेगा।

मंत्री श्रीमती बादल ने मेगा फूड पार्क की स्थापना में समर्थन प्रदान करने के लिए राज्य सरकार को धन्यवाद दिया।

***

आर.के.मीणा/अर्चना/जेके/एमएस