विज्ञप्तियां उर्दू विज्ञप्तियां फोटो निमंत्रण लेख प्रत्यायन फीडबैक विज्ञप्तियां मंगाएं Search उन्नत खोज
RSS RSS
Quick Search
home Home
Releases Urdu Releases Photos Invitations Features Accreditation Feedback Subscribe Releases Advance Search
विज्ञप्तियां
माह वर्ष
  • श्रीमती हरसिमरत कौर बादल ने पेरंबलूर में छोटे प्‍याजों के लिए साझा खाद्य प्रसंस्‍करण इनक्‍यूबेशन केंद्र का शुभारंभ किया  (31-अगस्त,2017)
 
खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय

श्रीमती हरसिमरत कौर बादल ने पेरंबलूर में छोटे प्‍याजों के लिए साझा खाद्य प्रसंस्‍करण इनक्‍यूबेशन केंद्र का शुभारंभ किया 

केंद्रीय खाद्य प्रसंस्‍करण उद्योग मंत्री श्रीमती हरसिमरत कौर बादल ने आज यहां वीडियो कांफ्रेंसिग के जरिए तमिलनाडु के पेरंबलुर जिले के चेट्टीकुलम गांव में छोटे प्‍याजों (शालोट्स) के लिए साझा खाद्य प्रसंस्करण इनक्यूबेशन केंद्र का शुभारंभ किया।

इस अवसर पर अपने संबोधन में श्रीमती हरसिमरन कौर बादल ने कहा कि यह तमिलनाडु और खासकर चेट्टीकुलम गांव के लिए ऐतिहासिक अवसर है। उन्‍होंने 2022 तक किसानों के आय को दुगुना करने के लक्ष्‍य के प्रति इंडियन इंस्‍टीट्यूट ऑफ फूड प्रोसेसिंग टेक्नोलॉजी (आईआईएफपीटी, तंजावुर) के पहलों की सराहना की। उन्‍होंने जानकारी देते हुए कहा कि पेरंबलूर जिले के किसान कृषि लागत में वृद्धि, अप्रत्याशित मौसम, बीमारी फैलने और बाजार में पर्याप्त कीमत नहीं मिलने के बावजूद 8,000 हेक्‍टेयर के कृषि क्षेत्र में प्रति वर्ष 70,000 टन छोटे प्‍याजों का उत्‍पादन करते हैं। पेरंबलूर का यह छोटे प्‍याजों के लिए केंद्रीय प्रसंस्‍करण केंद्र सुनिश्‍चित करेगा कि प्‍याज बर्वाद न हो, किसानों की आमदनी में वृद्धि हो और उपभोक्‍ताओं को छोटे प्‍याज उपलब्‍ध हों। छोटे प्‍याजों की यह तकनीक भारत के सभी भागों के लिए उपयोगी है।

 

 

 

      इंडियन इंस्‍टीट्यूट ऑफ फूड प्रोसेसिंग टेक्नोलॉजी के निदेशक श्री सी. आनंदधर्माकृष्‍णन ने कहा कि उनके संस्‍थान ने प्रति वर्ष एक फसल के प्रसंस्‍करण की तकनीक तथा फसल के लिए संबंधित आधारभूत संरचना विकसित करने का निश्‍चय किया है। इस संबंध में पिछले वर्ष ‘मिशन बनाना’ (केला) को लागू किया गया और इस वर्ष ‘मिशन अनियन’ को लागू किया जा रहा है। पेरंबलुर जिले के चेट्टीकुलम गांव में छोटे प्‍याजों (शालोट्स) के लिए साझा खाद्य प्रसंस्करण इनक्यूबेशन केंद्र भी ‘मिशन अनियन’ अभियान का एक हिस्‍सा है, जो क्षेत्र के प्‍याज उत्‍पादकों का जीवन बेहतर करेगा। मूल्‍य संवर्द्धन के माध्‍यम से यह केंद्र किसानों के आय को दुगुना करने में सहायता प्रदान करेगा। यह केंद्र छोटे प्‍याजों का प्रसंस्‍करण करेगा और चार प्रकार के उत्‍पाद तैयार करेगा- ताजे छोटे प्‍याज, छिलका उतारे हुए छोटे प्‍याज,  प्‍याज पाउडर, प्‍याज पेस्‍ट, प्‍याज के बारीक कतरन। उन्‍होंने बताया कि आईआईएफपीटी मिशन कोकोनट पर कार्य कर रहा है, जिसका शुभारंभ अगले वर्ष विश्‍व नारियल दिवस (2 सितंबर, 2018) के अवसर पर किया जाएगा।

पृष्‍ठभूमि

पेरंबलुर जिला छोटे प्‍याजों के उत्‍पादन का केंद्र है यहां प्रतिवर्ष 8,000 हेक्‍टेयर में छोटे प्‍याज की खेती की जाती है और उत्‍पादन लगभग 70,000 टन प्रतिवर्ष है। किसानों ने भारी घाटे की शिकायत की। इसका कारण संभवत: पारंपरिक रूप से रख-रखाव किया जाना और भंडारण है। इस क्षेत्र के सभी साझेदारों ने कहा कि बर्वादी को रोकने के लिए तकनीकी समाधान आवश्‍यक है। इस संबंध में किसान उत्‍पादक यूनियन की भी शुरूआत हुई जो इस पहल में हिस्‍सा लेगा।

 

 

 

 आईआईएफपीटी ने तीन मशीनें विकसित की हैं।

  1. छोटे प्‍याज का जड़ व तना काटने की मशीन
  2. छोटे प्‍याज को छीलने की मशीन
  3. सौर सहायता से चलने वाली प्‍याज भंडारण इकाई

यह केंद्र 4 मूल्‍यवर्द्धित उत्‍पाद बनाएगा-  

  1. प्‍याज पाउडर
  2. प्‍याज पेस्‍ट
  3. छिलका उतारे हुए प्‍याज की वैक्‍यूम पैकिंग
  4. प्‍याज की बारीक कतरनें

मूल्‍यसंर्द्धन के फायदे-

  1. भंडारण से होने वाले नुकसान में कमी
  2. रख-रखाव में आसानी
  3. सेल्‍फ लाइफ में वृद्धि
  4. आय में वृद्धि
  5. स्‍थानिक किसानों को बड़े बाजार की उपलब्‍धता
  6. रोजगार सृजन

मात्र उचित रख-रखाव व भंडारण से छोटे प्‍याज 15 दिनों तक उपयोग के लायक रह सकते हैं,लेकिन मूल्‍यवर्द्धन से प्‍याज पाउडर 6 महीनों तक, प्‍याज पेस्‍ट 5 महीनों तक, छिलका उतारे हुए  तथा वैक्‍यूम पैकिंग किए हुए प्‍याज 1 महीने तक तथा प्‍याज की बारीक कतरनें 6 महीने तक उपयोग की जा सकती हैं। इस प्रकार यह प्‍याज की सेल्‍फ लाइफ बढ़ाता है और किसानों को भी अपनी फसल के लिए बेहतर कीमत मिलती है।

***

         

वीके/जेके/एसकेपी/सीएल/–3589

 

डिज़ाइन एवं होस्‍ट राष्‍ट्रीय सूचना केंद्र (एनआईसी),सूचना उपलब्‍ध एवं अद्यतन की गई पत्र सूचना कार्यालय
ए खण्‍ड शास्‍त्री भवन, डॉ- राजेंद्र प्रसाद रोड़, नई दिल्‍ली- 110 001 फ़ोन 23389338